Close X
Tuesday, April 20th, 2021

हुक्का बारज पर पाबंदी समय की जरूरत : मनजिंदर सिंह सिरसा

आई एन वी सी न्यूज़ नई दिल्ली, दिल्ली के सैंकड़ों लोग आज कनाट प्लेस में उक्त प्रदर्शनी को देखने और इसकी हिमायत में पहुंचे, जिसका मकसद राष्ट्रीय राजधानी में हुक्का बारज पर पाबंदी की मांग में हिमायत जुटाना है। यह प्रदर्शनी दिल्ली के शिरोमणी अकाली दल और भाजपा विधायक और दिल्ली सिख गुरुद्वाराप्रबंधक कमेटी के महासचिव मनजिंदर सिंह सिरसा द्वारा लगाई गई है और उन्होंने यह सिख नौजवान गुरप्रीत सिंह को समर्पित की है जिसने सार्वजनिक स्थानों पर सिगरटनोशी का विरोध करने बाद हुए एक कातिलाना हमलो में अपनी जान गुमा के लिए। प्रदर्शनी के उद्घाटन मौके विशेषतौर पर पहुंचे दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रधान मनजीत सिंह जी. के. ने इस मुहिम और स. सिरसा द्वारा पहलकदमी की हिमायत का ऐलान करते कहा कि यह हुक्का बारज हमारे समाज के लिए बेहद बुरी हैं और हम इस मुहिम की हिमायत करते यकीनी बनाऐंगे कि राजधानी मेंइन पर पाबंदी लगे। इस मौके डी.एस.जी.एम.सी. के महासचिव मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में यह एक ऐतिहासिक मौका है जब पहली बार सामाजिक ताने बाने को ढह ढेरी कर रहे कारणों के विरोध में सांझे यत्न के लिए हिमायत जुटाने के लिए यह प्रदर्शनी आयोजित की गई है। उन्होंनेकहा कि हुक्का बारज राष्ट्रीय राजधानी के नौजवानों को तबाह कर रही हैं परन्तु सरकार कुंभकरनी नींद सोई पड़ी है और उसको नौजवानों को बचाने में कोई रूचि नहीं है। उन्होंने कहा कि अब पहलकदमी हो गई है और हम उन्होंने सैंकड़ों लोगों के धन्यवादी हैं जिन्होंने मौके पर पहुंच करराष्ट्रीय राजधानी में हुक्का बारज पर पाबंदी की मांग की हिमायत की है। उन्होंने कहा कि प्रदर्शनी का मंतव्य हुक्का पीने के बुरी प्रभाव बारे संदेश देना है और इसका मुख्य उद्देश्य दिल्ली में हुक्का बारज पर मुकम्मल पाबंदी की मांग में समर्थन जुटाउना है। उन्होंने ओर कहा कि हुक्का पीना सिग्रेट पीने की अपेक्षा कहीं ज़्यादा खतरनाक है। उन्होंने बताया कि एक सैशन में ही एक व्यक्ति 150 सिग्रेटों जितना नशा अंदर खींच लेता है। उन्होंने कहा कि 13 से 15 साल की उम्र के अल्लहड़ नौजवान हुक्का पीने के सब से अधिक आदि हैं और बहुतनिंदनीय है कि हर रोज 2500 व्यक्ति इस आदत के कारण मौत के मुंह में पड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि हरियाणा और पंजाब पहले ही अपने राज्यों में हुक्का बारज पर पाबंदी लगा चुके हैं। उन्होंने बताया कि समाज की कई अहम हस्तियां जिन में जनरल अगर जे सिंह पूर्व प्रमुख भारतीय फौज, मनोज तिवाड़ी एम.पी. और प्रधान दिल्ली भाजपा, के.टी.एस. तुलसी वकील और एम पी, प्रवेश साहब सिंह वर्मा एम.पी., महेश गिरी एम पी, विक्रमजीत सिंह साहनी पदमश्री औरअंजना ओम कश्यप राष्ट्रीय प्रसिद्धि प्राप्त पत्रकार ने दिल्ली में हुक्का बारज के खिलाफ मुहिम शुरू करने और इसकी हिमायत करने का फैसला किया है। इस मौके अर्जुन ऐवारडी और राष्ट्र मंडल खेल के चांदी का तमगा विजेता मनदीप जांगड़ा ने भी इस मुहिम की हिमायत का ऐलान किया। इस मौके अन्य के इलावा दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के मैंबर जगदीप सिंह काहलों, हरजीत सिंह पप्पा, गुरमीत सिंह भाटिया, जस्मीन सिंहनोनी, मनजीत सिंह औलख, बीबी रणजीत कौर, दलजीत सिंह राणा, सर्बजीत सिंह विर्क, रमिंदर सिंह स्वीटा और शिरोमणी अकाली दल के नेता जसप्रीत सिंह विक्की मान, हरजीत सिंह बेदी, जगमोहन सिंह शेरू और परविंदर सिंह आहूजा भी उपस्थित थे।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment