Monday, April 6th, 2020

हर-हर महादेव के जयकारों से गूंजे शिवालय, भक्तों ने किया जलाभिषेक

देवों के देव महादेव का पावन पर्व महाशिवरात्रि आज है। पूरे देश में भगवान शिव के मंदिरों को सजाने-संवारने का कार्य पूरा हो चुका है। रात से ही मंदिरों में शिवलिंग पर जलाभिषेक के साथ पूजा-अर्चना करने के लिए श्रद्धालुओं का रेला नजर आने लगा। श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए सभी बड़े मंदिरों में व्यवस्था सुदृढ़ की गई है। पूजा अर्चना करने का सिलसिला आधी रात तक जारी रहेगा।

ओम नम: शिवाय..., हर-हर महादेव..., बोल बम..जैसे उद्घोषों के साथ आज क्षेत्र के शिवालय गूंज उठेंगे। महाशिवरात्रि पर्व पर जगह-जगह सुबह से लेकर शाम तक भोले बाबा की आराधना की जाएगी। कहीं रुद्राभिषेक और दुग्धाभिषेक को श्रद्धालु उमड़ेंगे तो कहीं पर महामृत्युंजय और शिव मानस पाठ का आयोजन किया जाएगा। कई शिवालयों में बाबा को 1008 दीपों का दीपदानन होगा तो कहीं पर ऊं नम: शिवाय: के पाठ का महाजाप किया जाएगा।
महाशिवरात्रि के मौके पर मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के बैरागढ़ में संत हिरदाराम नगर में भगवान शिव के एक मंदिर का नाम थानेश्वर महादेव मंदिर कर दिया गया है।

महाशिवरात्रि के अवसर पर कर्नाटक के कलबुरगी में ब्रह्म कुमारी में 25 फीट ऊंचे शिवलिंग को करीब 300 किलो पिजन पी से सजाया गया है।  

महाराष्ट्र में बाबुलनाथ मंदिर में भगवान शिव का जलाभिषेक करने के लिए बढ़ी संख्या में भक्त मंदिर पहुंचे। हर-हर महादेव और जय-जय शिव शंकर के जयकारे लगाते भक्तों ने शिवलिंग पर बेलपत्र अर्पित किए और दूध व जल से अभिषेक किया।
देश की राजधानी दिल्ली में भी भोलेबाबा के भक्तों के बीच महाशिवरात्रि का खूब उत्साह दिख रहा है। चांदनी चौक में श्री गौरी शंकर मंदिर में सुबह से ही पूजा करने के लिए भक्त मंदिर में जुटने लगे।
महाशिवरात्रि के मौके पर पंजाब भी भगवान शिव के रंग में रंग गया। अमृतसर में स्थित शिवाला बाग भाईयां में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी।
मध्यप्रदेश के उज्जैन में श्री महाकालेश्वर मंदिर में भक्तों ने शिवलिंग का जलाभिषेक किया और बेलपत्र चढ़ाए। PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment