Close X
Saturday, October 24th, 2020

हरियाणा की सेहत को सुधरेगी आंगनवाडी

sआई एन वी सी,
हरियाणा, हरियाणा के मुख्य सचिव पी. के. चैधरी ने कहा कि प्रदेश के अनुसूचित जाति व अल्पसंख्यक बाहुल्य क्षेत्रों में आंगनवाड़ी केन्द्रों  की उपलब्धता सुनिश्चित किया जाएं ताकि वहां के बच्चों को उचित पोषाहार दिया जा सके। चंडीगढ में महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा आयोजित समेकित बाल विकास योजना एवं सबला की समीक्षा बैठक में अधिकारियों को निर्देश देते हुए मुख्य सचिव ने ये बात कही।  इन क्षेत्रों में आंगनवाड़ी केन्द्र खोलने के लिए भूमि की पहचान एवं अन्य आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए स्थानीय विधायक या सांसदों से संपर्क किया जाएगा। इन कार्यों की देखरेख के लिए स्थानीय उपायुक्त स्तर पर कमेटी का गठन किया जाए और नियमित तौर पर जांच कमेटी कार्य करती रहे। इसके लिए उपायुक्त विधायकों तथा सांसदों के संपर्क में रहेगें और उनकी फीडबैक ली जाएगी। मुख्य सचिव ने कहा कि किशोरियों के सशक्तिकरण के लिए सरकार द्वारा चलाई जा रही सबला योजना के तहत लड़कियों को पोषाहार, आयरन की गोलियां, स्वास्थ्य जांच, रैफरल सेवा, स्वास्थ्य एवं पोषाहार की शिक्षा, परिवार कल्याण व बाल कल्याण हेतु जानकारी उपलब्ध करवाना, जीवन संबंधी शिक्षा तथा 16 वर्ष से अधिक लड़कियों को व्यवसायिक शिक्षा दी जाती है। इस योजना के तहत अभी 322773 किशोरियों के लक्ष्य में से 269637 लड़कियों को पोषाहार उपलब्ध करवाया गया है। व्यवसायिक शिक्षा के लिए 2589 लड़कियों को प्रशिक्षित किया गया है तथा 1000 लडकियों की पहचान की जा चुकी है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment