Wednesday, January 22nd, 2020

हम विकास लक्ष्यों को प्राप्त करने हेतु प्रयासरत

आई एन वी सी न्यूज़
लखनऊ,
प्रदेश के पंचायतीराज मंत्री भूपेन्द्र सिंह चैधरी ने कहा कि आगामी 02 अक्टूबर से 31 दिसम्बर,2019 के मध्य संचालित जन-योजना अभियान ग्राम पंचायतों के लिए एक अवसर है कि वह अपनी 2020-21 की वार्षिक कार्ययोजना की तैयारी पहले से ही कर लें। वार्षिक कार्ययोजना एवं जी0पी0डी0पी0 योजना के तहत गाॅव विकास की एक प्रक्रिया है जिसके माध्यम से उनको समग्र एवं समेकित विकास हेतु अपने विकास की योजना का निर्माण करना है। इस अभियान के दौरान वित्तीय वर्ष 2020-21 की ग्राम पंचायत विकास योजना (जी0पी0डी0पी0) तैयार करने के लिए ग्राम सभा की व्यवस्थित बैठकें आयोजित की जायें।

     यह बातें पंचायतीराज मंत्री श्री चैधरी ने आज यहाॅं होटल हिलटन इन गोमतीनगर लखनऊ में आयोजित जन-योजना अभियान पर गंगा क्षेत्र से सम्बधित 06 राज्यों (पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, मध्य प्रदेश, एवं बिहार) की आर्थिक एवं सामाजिक परिवर्तन विषय पर राष्ट््रीय कार्यशाला में कहीं। उन्होने कहा कि इस वर्ष पंचायतें और अधिक सार्थक एवं मजबूत कार्य योजना की साथ सामने आयेगी एवं राष्ट््रीय स्तर पर उदाहरण प्रस्तुत करेंगी। उन्होने कहा कि पंचायतीराज विभाग जी0पी0डी0पी0 के माध्यम से सतत् विकास के लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए प्रयासरत हैं। उन्होने कहा कि 02 अक्टूबर,2019 से पूर्व उत्तर प्रदेश में शैाचालय से विहीन सभी पात्र परिवारों को संतृप्त किये जाने का कार्य प्रगति पर है।

     श्री चैधरी ने कहा कि ग्राम पंचायत विकास योजना का उददेश्य हितधारकों के साथ योजना बनाना तथा उन योजनाओं के अनुसार क्षेत्रीय स्तर पर विकास करना है। साथ ही आर्थिक विकास और सामाजिक न्याय के लिए योजनाओं को लागू करना है। इस योजना की प्रक्रिया के परिणाम स्वरूप सभी संसाधनों का गांव के विकास के लिए सही तरीकें से उपयोग किया जा सकता है जिससे गांव में विभिन्न स्तरों पर विकास किया जा सकता है।

   इस अवसर पर पंचायतीराज मंत्रालय भारत सरकार के सचिव श्री राहुल भटनागर ने कहा कि प्रत्येक ग्राम पंचायत गाॅव के विकास के लिए एक योजना बनाये और उसके अनुसार गाॅव का विकास कराये। वर्ष 2020-2021 की जी0पी0डी0पी0योजना के तहत कार्ययोजना तैयार करने के लिए 02 अक्टूबर से 31 दिसम्बर,2019 के मध्य किया जाना है। उन्होने कहा कि भारत सरकार एवं राज्य सरकार के द्वारा सीधे ग्राम पंचायतों के विकास के लिए धनराशि भेजी जा रही है, जिसके तहत ग्राम पंचायते अपनी कार्ययोजना तैयार कर विकास के कार्य करा सकती है।

      इस अवसर पर सचिव श्री राहुल भटनागर ने श्री अमित द्विवेदी प्रधान ग्राम पंचायत अकबरपुर इटौरा जनपद जालौन उत्तर प्रदेश, श्री युवराज सिंह सरपंच हरियाणा, श्री ज्ञानेन्द्र सिंह प्रधान ग्राम पंचायत लालपुर जनपद लखनऊ यू0पी0, श्री सन्द्रीप सरकार जिला समन्वयक पश्चिम बंगाल,  कुमारी रितु कुमार मुखिया बिहार, श्री अजय सिंह यादव आदर्श ग्राम पंचायत धरनई बिहार, श्री पंथदीप सिंह सरपंच पंजाब, कुमारी मोना सरपंच मध्यप्रदेश को प्रतीक चिन्ह व शाल देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर पंचायतीराज मंत्रालय भारत सरकार के श्री बाला प्रसाद विशेष सचिव व श्री आलोक पे्रम नागर संयुक्त सचिव ने कहा कि पंचायती राज मंत्रालय भारत सरकार द्वारा 02 अक्टूबर से 31 दिसम्बर,2019 के मध्य जन-योजना अभियान के अन्तर्गत पंचायते दीर्घ कालिक विकास के लक्ष्य को देखते हुए प्रत्येक वर्ष जन सहभागिता से वार्षिक कार्ययोजनाये/जी0पी0डी0पी0 तैयार करें।

    इस अवसर पर निदेशक पंचायतीराज डा0ब्रहमदेव राम तिवारी ने कार्यशाला में आये हुए सभी आगन्तुको का स्वागत किया और विभाग द्वारा संचालित योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी भी प्रदान की । इस मौके पर संयुक्त निदेशक श्री के0एस0अवस्थी, उप निदेशक पंचायत श्रीमती प्रवीणा चैधरी, श्री गिरीश चन्द रजक, सहित अन्य सम्बधित अधिकारी आदि उपस्थित थें।



 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment