Thursday, April 9th, 2020

हमारा पूरा ध्यान दिल्ली पर

नई दिल्ली  । आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने कहा है कि हमारे  केंद्रीय नेतृत्व ने महाराष्ट्र और हरियाणा के चुनाव प्रचार में हिस्सा नहीं लिया, हमारा पूरा ध्यान दिल्ली पर है। उन्होंने कहा कि हरियाणा और महाराष्ट्र में क्षेत्रीय दलों की मौजूदगी मजबूत होने के चलते ही दोनों राज्यों के विधानसभा चुनावों में आप पार्टी को भारी नुकसान हुआ। महाराष्ट्र  और हरियाणा में 'आप' को नोटा के पक्ष में पड़े वोट से भी कम वोट मिले और पार्टी ने दोनों राज्यों में जिन 70 सीटों पर चुनाव लड़ा था, सभी पर हार गई।
ज्ञात रहे कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में अगले साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं जहां आप सत्ता में है। 'आप' ने हरियाणा की 90 सीटों में से 46 पर उम्मीदवार उतारे थे, जबकि महाराष्ट्र में उसने 24 सीटों पर चुनाव लड़ा था। चुनाव आयोग के अनुसार दोनों राज्यों में अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली पार्टी के अधिकतर उम्मीदवारों को 1,000 से भी कम मत मिले।
चुनाव आयोग के अनुसार हरियाणा में 'आप' का मत प्रतिशत 0.48 प्रतिशत, जबकि नोटा का मत प्रतिशत 0।53 प्रतिशत रहा। महाराष्ट्र में पार्टी का मत प्रतिशत 0.11 प्रतिशत था, जबकि नोटा का 1.37 प्रतिशत था। PLC

Comments

CAPTCHA code

Users Comment