आई एन वी सी न्यूज़
जयपुर,
सूचना एवं जनसंपर्क राज्यमंत्री श्री अशोक चांदना ने कहा  कि गत 3 वर्ष में राज्य सरकार ने प्रदेश में विकास की गंगा बहाई है वहीं बूंदी जिले के हिण्डोली-नैनवां क्षेत्र भी विकास की नई कहानी लिख रहा है। अब प्राथमिकता से छोटे गांव मजरों को सड़कों से जोड़ने का काम होगा।

चांदना सोमवार को मुख्यमंत्री की बजट घोषणा के तहत बूंदी जिले के हिण्डोली क्षेत्र के देवजी का थाना गांव में देवजी का थाना से पेच की बावडी तक 20 करोड़ रूपये की लागत से बनने वाली सड़क के शिलान्यास समारोह को सम्बोधित कर रहे थे । उन्होंने कहा कि बीते तीन सालों में हिण्डोली-नैनवां में हर क्षेत्र विकास की नई योजनाएं और परियोजनाएं स्वीकृत करवाकर उनको मूर्त रूप देने का कार्य किया जा रहा है। यह क्षेत्र पिछले 25 सालों में विकास को तरसता रहा, इस कमी को बड़ी-बड़ी परियोजनाएं लाकर दूर किया जा रहा है। आने वाले दिनों में हिण्डोली विकास के मॉडल  के रूप में जाना जाएगा।

उन्होंने कहा कि क्षेत्र के किसानों को अब सर्दी के मौसम में भी दिन में बिजली आपूर्ति सुलभ हो रही है। तालाब गांव के समीप 350 करोड़ की लागत से मेडीकल कॉलेज का निर्माण शुरू हुआ है। एक हजार करोड़ की लागत से नैनवां चम्बल पेयजल परियोजना का कार्य शुरू करवाकर पेयजल समस्या का स्थाई समाधान कर दिया है। क्षेत्र के हर घर में नल कनेक्शन देकर राहत दी जाएगी।सड़क, पेयजल, सिंचाई, चिकित्सा, शिक्षा कोई भी क्षेत्र अछूता नहीं है, जहां विकास की कोई कमी रही हो। इन क्षेत्रों में करवाए जाने वाले कार्यों से निश्चित रूप से क्षेत्रवासियों को राहत और सुविधाएं मिलेंगी और उनका जीवन स्तर अच्छा होगा।

सड़कों से गांव ढाणियों तक पहुंचेगा विकास
खेल राज्यमंत्री ने कहा कि सड़कें विकास की कड़ी में महत्वपूर्ण है। इसको ध्यान में रखते हुए हिण्डोली-नैनवां क्षेत्र में सड़कों का जाल बिछाया जा रहा है। नई सड़कें स्वीकृत करवाई जा रही हैं, ताकि आमजन को सुगम यातायात मिलने के साथ ही उनकी पहुंच बडे कस्बे और शहरों तक हो सके। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में छोटे-छोटे गांवों और मजरों में सड़कों के निर्माण का कार्य शुरू किया जाएगा ताकि वहां भी विकास की रोशनी पहुंच सके। उन्होंने कहा कि 40 करोड़ रुपए की लागत से बूंदी से मेण्डी,  68 करोड़ की लागत से धनावा से नैनवां तक सड़क निर्माण प्रगति पर है।  

उन्होंने कहा कि क्षेत्र में युवाओं की उच्च शिक्षा के लिए 5 कॉलेज की व्यवस्था की गई है। इसके तहत हिण्डोली व नैनवां में सरकारी कॉलेज, हिण्डोली में मेडीकल कॉलेज, एग्रीकल्चर कॉलेज और अब  नर्सिंग कॉलेज भी स्वीकृत हो गया है।

कार्यक्रम में जिला प्रमुख श्रीमती चंद्रावती कंवर, उप जिला प्रमुख श्री बंसी लाल मीणा सहित स्थानीय एवं आसपास के गांवों के जनप्रतिनिधि तथा ग्रामीण मौजूद रहे।
पूर्णाहूति कार्यक्रम में की शिरकत

श्री चांदना ने मोडसा व रोणिजा गांव में आयोजित पूर्णाहुति एवं अन्य सामाजिक कार्यक्रमों में शिरकत की । यहां ग्रामीणों ने राज्यमंत्री का भव्य स्वागत किया । इस मौके पर श्री चांदना ने कहा कि क्षेत्र में विकास कार्याे में कोई कमी नहीं आने दी जायेगी। हिण्डोली-नैनवां के हर क्षेत्र में विकास की नई इबारत लिखी जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here