आई एन वी सी नई
लखनऊ,
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री यागी आदित्यनाथ जी न कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मादी जी द्वारा बिना भेदभाव के सभी वर्गों के कल्याण के लिए प्रारम्भ की गयी विभिन्न योजनाआं में ‘स्वच्छ भारत मिशन’ एक है। प्रधानमंत्री जी के प्रेरणादायी नेतृत्व म ‘स्वच्छ भारत मिशन’ एक आन्दोलन बन गया है। ‘स्वच्छ भारत मिशन’ देश में व्यापक परिवर्तन का आधार बन सकता है। इसके लिए सभी को स्वच्छता के प्रति जागरूक हाकर अपनी भूमिका निभानी हागी।

मुख्यमंत्री जी आज यहां नगर विकास विभाग द्वारा 15 नवम्बर स 15 दिसम्बर, 2018 के मध्य आयोजित ‘स्वच्छ वार्ड प्रतिस्पर्धा’ में सर्वोच्च स्थान प्राप्त करन वाले वार्डों का पुरस्कृत करन के उपरान्त अपने विचार व्यक्त कर रह थे। उन्होंन भरासा जताया कि आज पुरस्कृत इकाइयां से प्रेरित हाकर अन्य निकाय भी बेहतर प्रयास करेंगे तथा स्वच्छता सर्वेक्षण में प्रदश को सम्मानजनक स्थान दिलायेंगे। मुख्यमंत्री जी न दीप प्रज्ज्वलित कर तथा पूर्व प्रधानमंत्री श्रद्धय श्री अटल बिहारी वाजपयी के चित्र पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री जी ने नगर निगम श्रणी के अन्तर्गत आगरा नगर निगम के वार्ड संख्या 44 कटरा फुलेला, नगर पालिका परिषद श्रणी के अन्तर्गत जनपद अमरोहा की नगर पालिका परिषद गजरौला के वार्ड संख्या 19 इन्दिरा चौक, नगर पंचायत श्रणी के अन्तर्गत जनपद आगरा की नगर पंचायतों स्वामी बाग के वार्ड प्रेम भवन तथा दयाल बाग के वार्ड राधा नगर का स्वच्छता में सर्वाच्च स्थान प्राप्त करने के लिए पुरस्कृत किया। स्वच्छता के लिए विशष प्रयास करने हतु उन्होंन जनपद गाजियाबाद, प्रयागराज, फर्रुखाबाद, झांसी तथा शाहजहांपुर क जिलाधिकारियां का भी सम्मानित किया।

स्वच्छता का सभी के लिए दिनचर्या का अभिन्न अंग बनान का आह्वान करत हुए उन्होंने कहा कि स्वच्छता जीवन के लिए इतनी आवश्यक है कि सामान्य पशु-पक्षी भी गन्दगी मं बैठना पसन्द नहीं करत। इसलिए ईश्वर की सर्वश्रष्ठ कृति मनुष्य का इसकी उपेक्षा नहीं करनी चाहिए। अस्वच्छ वातावरण स विभिन्न प्रकार की बीमारियां हाती हैं, जिससे लाग असमय काल कवलित हा जात हैं।

गोरखपुर जनपद सहित आस-पास के जनपदां में इन्सेफलाइटिस तथा अन्य वेक्टरजनित बीमारियां पर नियंत्रण के अपन अनुभव की चर्चा करत हुए उन्हांने कहा कि इन जनपदां में स्वच्छता अभियान, स्वच्छ पेयजल की उपलब्धता तथा टीकाकरण अभियान न बड़ी भूमिका निभायी है। इसमं भी स्वच्छता का पहलू सबसे महत्वपूर्ण है। उन्होंन कहा कि राज्य सरकार के प्रयास से इस वर्ष पूर्वांचल के इन जनपदों में इन्सफलाइटिस से होन वाली मौतों में बड़े पैमान पर कमी आयी है।

मुख्यमंत्री जी न कहा कि नगर निकायों में साफ-सफाई, स्वच्छ पेयजल, कूड़ा निस्तारण, ड्रेनज व्यवस्था सही कर दी जाए ता शहरी क्षेत्रों की तस्वीर बदल सकती है। इसके लिए महापौर सहित नगर निकाय अध्यक्षों का क्षत्र में सुबह-शाम एक-एक घण्ट भ्रमण कर जन सुविधाआं की समीक्षा करनी चाहिए। यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि स्वच्छता हतु संचालित गतिविधियां प्रतिस्पर्धा तक ही सीमित न रहं, बल्कि दैनिक जीवन का हिस्सा बनं। उन्हांने कहा कि स्वच्छता के लिए इसके महत्व के प्रति आमजन का जागरूक किए जान की आवश्यकता है। विभिन्न सामाजिक, धार्मिक, व्यावसायिक संगठनों का जाड़कर, स्वच्छता की निगरानी समितियां का सक्रिय करके टीम वर्क एवं सामूहिक प्रयास से बेहतर परिणाम प्राप्त किए जा सकत हैं।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि आज पूरे देश में पूर्व प्रधानमंत्री श्रद्धय श्री अटल बिहारी वाजपेयी का जन्मदिन सुशासन दिवस के रूप मं मनाया जा रहा है। श्रद्धय वाजपेयी जी ने लोकतंत्र के वास्तविक उद्देश्य को साकार करन के लिए समाज के अंतिम पायदान के व्यक्ति तक शासन की याजनाओं का लाभ पहुंचाने का मार्ग प्रशस्त किया। अन्त्योदय, अन्नपूर्णा, बी0पी0एल0 और ए0पी0एल0 कार्ड के माध्यम स उन्होंन हर वर्ग क लिए खाद्यान्न दन की शुरुआत की। हर राज्य में एम्स की परिकल्पना करत हुए उन्होंन 06 स्थानां पर एम्स की स्थापना की पहल करत हुए उसे लागू किया। वर्तमान में ग्रामीण और शहरी इलाकां में अच्छी सड़कें एवं आधुनिक संचार क्रांति अटल जी की साच का ही परिणाम है।

मुख्यमंत्री जी न कहा कि सुशासन दिवस के अवसर पर आज पूर प्रदश में जनहित से जुड विविध कार्यक्रम आयोजित किए जा रह हैं। इसके माध्यम से पात्र लागां का विभिन्न जनहितकारी याजनाआं से लाभान्वित किया जा रहा है। वृद्धावस्था, निराश्रित विधवा तथा दिव्यांग पेंशन के सम्बन्ध में विकास खण्ड व नगर  निकाय स्तर पर विशष शिविर आयाजित किए जा रह हैं। इन शिविरां के माध्यम से राशन कार्ड वितरण तथा आयुष्मान भारत याजना के लिए चयनित लाभार्थियों का कार्ड भी वितरित किए जाएंगे। आज ही प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र तथा जिला चिकित्सालय स्तर पर स्वास्थ्य सुविधाओं के शिविर भी आयाजित किए जा रहे हैं।

कार्यक्रम का सम्बोधित करत हुए नगर विकास मंत्री श्री सुरेश कुमार खन्ना न कहा कि 04 जनवरी, 2019 से 31 जनवरी, 2019 तक स्वच्छता सर्वेक्षण आयाजित हागा। इसमें अच्छे प्रदर्शन के लिए राज्य सरकार न इस सर्वेक्षण से पूर्व 15 नवम्बर से 15 दिसम्बर तक स्वच्छ वॉर्ड प्रतिस्पर्धा का आयाजन किया। आज इस प्रतिस्पर्धा मं सर्वाच्च स्थान प्राप्त करन वाले 44 नगर निकायां का सम्मानित किया जा रहा है। इसमें 12 नगर निकाय, 18 नगर पालिका परिषद तथा 14 नगर पंचायत सम्मिलित हैं। उन्होंन बताया कि प्रतिस्पर्धा विभिन्न संकेतकां के आधार पर आयाजित की गई। इस दौरान जन जागरण एवं जनसहभागिता के लिए अनक कार्यक्रम भी आयाजित किए गए। उन्हांन बताया कि स्वच्छ वॉर्ड प्रतिस्पर्धा के विजता वॉर्डों में विकास कार्यां के लिए प्रात्साहन राशि की व्यवस्था की गई है।

नगर विकास राज्य मंत्री श्री गिरीश चन्द्र यादव ने अतिथियों के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया।

इस अवसर पर लखनऊ की महापौर श्रीमती संयुक्ता भाटिया, नगर विकास विभाग के सलाहकार श्री केशव वर्मा, प्रमुख सचिव श्री मनोज कुमार सिंह, सचिव श्री अनुराग यादव, विभिन्न नगर निकायां के पदाधिकारीगण, अन्य जनप्रतिनिधिगण सहित शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थ।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here