Tuesday, February 18th, 2020

सूचना प्रौद्योगिकी के बेहतर इस्तेमाल से भ्रष्टाचार एवं बिचौलिया वाद को समाप्त किया जा सकता है : रघुवर दास

रघुवर दास आई एन वी सी न्यूज़आई एन वी सी न्यूज़ राँची, मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि सूचना प्रौद्योगिकी के बेहतर इस्तेमाल से भ्रष्टाचार एवं बिचौलिया वाद को समाप्त किया जा सकता है। इस हेतु सभी विभागों में सूचना प्रौद्योगिकी का अधिक से अधिक उपयोग करना राज्य सरकार की प्राथमिकता है। झारखण्ड में सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में विकास ने जो गति पकड़ी है, आने वाले दिनों में झारखण्ड दूसरे राज्यों के लिए रोल मॉडल होगा। उक्त बातें मुख्यमंत्री श्री दास ने आज प्रोजेक्ट भवन स्थित सभाकक्ष में जैप-आई0टी0 के आठवें निदेशक मंडल की बैठक में कही। मुख्यमंत्री श्री दास ने विकास आयुक्त श्री आर0एस0 पोद्दार की अध्यक्षता में कार्यपालिका समिति के गठन का निदेश दिया, जिसमें विभिन्न विभागों के प्रधान सचिव/सचिव शामिल होंगे। इस समिति से पारित प्रस्तावों पर मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में गठित निदेशक मंडल की बैठक में अंतिम निर्णय लिया जाएगा। जैप आई0टी0 के कार्यप्रणाली में सुधार लाने के उद्देश्य से कम्पनी एक्ट के तहत निबंधन कराने का निदेश दिया गया। बैठक में मुख्यमंत्री श्री दास ने जैप आई0टी0 के मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी के वित्तीय शक्ति को दस लाख से बढ़ाकर एक करोड़ एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के सचिव के वित्तीय शक्ति को तीस लाख से बढ़ा कर पांच करोड़ करने की स्वीकृति प्रदान की। जैप आई0टी0 द्वारा विशेषज्ञ मानव संसाधन की सेवा प्राप्त करने की स्थिति में मानदेय वृद्धि को स्वीकृति दी गई। बैठक में मुख्य सचिव श्री राजीव गौबा, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री संजय कुमार, प्रधान सचिव योजना-सह-वित्त श्री अमित खरे, मुख्यमंत्री के सचिव श्री सुनील कुमार वर्णवाल, जैप आई0टी0 के निदेशक एवं संबंधित विभाग के अन्य पदाधिकारीगण उपस्थित थे।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment