MANOHARLALKHATTAR,manohar lal,manohar lal news, khattar newsआई एन वी सी न्यूज़
चंडीगढ़ , मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा है की सरकार प्रदेश में सुलभ और रोजगार परक शिक्षा देने के लिए  प्रयासरत है। वे मंगलवार को चंडीगढ़ में नई शिक्षा नीति पर  देशभर के शिक्षाविदों के विमर्श कार्यशाला में बोल रहे थे।उन्होंने कहा कि शैक्षणिक संस्थाओं की मैपिंग भी की जा रही है ताकि संसाधन प्रबन्धन सही हो और क्षेत्र विशेष की मांग के अनुरूप शैक्षणिक संस्थाएं खुलवाई जा सकें।
हरियाणा ने शिक्षा के क्षेत्र में  बड़ी पहल करते हुए केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्रालय द्वारा तैयार की जा रही नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत देश के अन्य राज्यों  में अग्रणी स्थान बना लिया जब मंगलवार को  मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने चंडीगढ़ में  देशभर के शिक्षाविदों के सामने  हरियाणा में अलग से शिक्षण विश्वविद्यालय, कौशल विकास विश्वविद्यालय तथा खेल विश्वविद्यालय खोलने की पेशकश की  ताकि अच्छे शिक्षक तैयार किये जा सकें। युवाओं को उनके हुनर के अनुरूप रोजगारपरक बनाया जा सके और प्रदेश में खेलों को बढ़ावा देने के लिए और अधिक सुविधाएं बढ़ाई जा सकें।
केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्रालय द्वारा तैयार की जा रही नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत हरियाणा शिक्षा विभाग की ओर से चंडीगढ़ में आयोजित दो दिवसीय समग्र शिक्षा-मुक्त विमर्श कार्यशाला के समापन अवसर बोलते हुए  मुख्यमंत्री  कहा कि किसी भी देश व प्रदेश की पहचान व्यक्ति निर्माण से होती है और व्यक्ति निर्माण के लिए अच्छे शिक्षक तैयार करना आवश्यक है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा में प्रतिभाओं की कमी नहीं है। युवाओं की शिक्षा  को रोजगार दाताओ के  अनुरूप रोजगारपरक बनाने के दृष्टिगत प्रदेश में कौशल विकास विश्वविद्यालय स्थापित करने की घोषणा पहले ही की जा चुकी है। उन्होंने कहा कि हरियाणा के युवाओं का राष्ट्रीय तथा अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर खेलों में योगदान को देखते हुए एक खेल विश्वविद्यालय स्थापित करने पर भी विचार किया जा रहा है।