Wednesday, October 23rd, 2019
Close X

सुप्रीम कोर्ट पर पूरा भरोसा

मुंबई। Maharashtra assembly elections 2019 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीरवार को महाराष्ट्र के नासिक में देवेंद्र फडणवीस सरकार की उपलब्धियां गिनाई। साथ ही, कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) पर जमकर निशाना साधा। इस दौरान मोदी ने केंद्र सरकार की भी उपब्धियां गिनाई।
मोदी ने कहा कि आज मैं एक विशेष धन्यता अनुभव कर रहा हूं और मैं इसे अपने जीवन का बहुमूल्य पल मानता हूं। आज छत्रपति शिवाजी महाराज के वंशज छत्रपति उदयन ने मेरे सिर पर एक छत्र रखा है। ये सम्मान भी है और छत्रपति शिवाजी महाराज के प्रति दायित्व का भी प्रतीक है।

महाराष्ट्र की इस धरती ने वीर सावरकर जी जैसे महान सपूत को जन्म दिया है। स्वतंत्रता के लिए हर यातना को मुस्कुरा कर सहने वाले सावरकर ने हमें राष्ट्रवाद के अभूतपूर्व संस्कार दिए हैं।

राममंदिर का मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में है, हम सभी को सुप्रीम कोर्ट पर पूरा भरोसा है।
जम्मू-कश्मीर और लद्दाख नई संभावनाओं को गले लगा रहा है, लेकिन विपक्ष के साथी इसमें भी राजनीतिक स्वार्थ ढूंढ रहे हैं।

देवेंद्र फडणवीस ने पांच वर्ष अखंड और अविरत साधना करके महाराष्ट्र की सेवा की और राज्य को नई दिशा दी।अब महाराष्ट्र की जिम्मेवारी है कि फिर एक बार देवेंद्र के नेतृत्व में स्थिर राजनीति का फायदा उठाना चाहिए।

हमने वादा किया था कि देश की सेना को सशक्त बनाने और अपने सैनिकों के सशक्तिकरण के लिए हर कदम उठाएंगे। हाल में दो महाशक्तिशाली हेलिकॉप्टर हमारी सैन्य शक्ति का हिस्सा बन चुके हैं, बहुत जल्द राफेल फाइटर जेट भी हमारी वायुसेना को सशक्त करेगा।
-जम्मू-कश्मीर में भारत के संविधान को समग्रता से लागू करना सिर्फ एक सरकार का फैसला नहीं है, ये 130 करोड़ भारतीयों की भावना का प्रकटीकरण है।

-हम जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के विकास के लिए नए काम करेंगे। आज मुझे खुशी है कि जम्मू-कश्मीर में भारतीय संविधान लागू कर दिया गया है।

-कश्मीर में अब रोजगार के साधन के लिए भी काफी प्रयास करना होगा। वहां के लोगों को रोजगार देने की कोशिश जारी है। आज सारा देश कश्मीर के साथ है, लेकिन कांग्रेस व एनसीपी के नेता सहयोग नहीं कर रहे हैं।

-कांग्रेस सरकार के कारण कश्मीर के लोगों की मुश्किलें बढ़ी थीं। सीमा पार से हिंसा फैलाने की कोशिश हो रही रही थी। मगर अब वहां ऐसा नहीं हो रहा है।

-अब हमें नया कश्मीर बनाना है। उसे एक बार फिर से स्वर्ग बनाना है। सारा देश कश्मीर के साथ है। सभी को वहां के लोगों की भलाई के लिए आगे आना होगा।  

-जब मैं लोकसभा चुनाव के दौरान आपके पास आया था तो मैंने आपको बताया था कि विकास की गति बढ़ाई जाएगी। यह एक समय-सीमा के भीतर किया जाएगा और मैं उत्तर के साथ समय पर आपके पास आऊंगा। हमने अभी पहले 100 दिन पूरे किए हैं और पहली सदी आपके सामने है।

-अप्रैल में जब लोकसभा चुनाव हुए थे, तब बहुत गर्मी थी। उस समय मैं एक रैली के लिए डिंडोरी में था, आपका आशीर्वाद मांग रहा था। वहां भारी भीड़ थी, इसने ऐसा कंपन पैदा किया कि पूरे देश में भाजपा की लहर और भी शक्तिशाली हो गई।

- PM Modi ने राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और राज्य सरकार के कार्यों की सराहना की। उन्होंने राज्य सरकार की उपलब्धियां भी गिनाई।

- प्रधानमंत्री के पहुंचने मुख्यमंत्री फडणवीस ने उनका स्वागत किया।

सीएम देवेंद्र फडणवीस द्वारा शुरू की गई महाजनादेश यात्रा का मोदी यहां समापन करने पहुंचे हैं। पिछले कुछ माह के दौरान कांग्रेस-राकांपा से हो रहे पलायन के दौर में भी अब तक उत्तर महाराष्ट्र का कोई बड़ा नेता अभी भाजपा में नहीं आया है।

प्रधानमंत्री की इस रैली का आयोजन मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की महाजनादेश यात्रा के समापन समारोह के रूप में किया गया। इसके कुछ दिन बाद ही विधानसभा चुनाव का बिगुल बज जाने की संभावना है। हालांकि, इससे पहले इसी माह एक सितंबर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी फडणवीस की महाजनादेश यात्रा के दूसरे चरण के समापन के अवसर पर सोलापुर में रैली कर चुके हैं। सोलापुर भी कांग्रेस का गढ़ माना जाता है।
कांग्रेस के दिग्गज नेता सुशील कुमार शिंदे वहीं से आते हैं। प्रधानमंत्री की रैली इस मायने में खास है कि इस बार विदर्भ के बाद सबसे ज्यादा उम्मीदें भाजपा को उत्तर महाराष्ट्र से ही हैं। उत्तर महाराष्ट्र की कई सीटें जनजातीय बहुल हैं। नंदुरबार लोकसभा सीट पर तो पिछले 70 साल में पहली बार भाजपा को जीत हासिल हुई है। गुजरात और मध्य प्रदेश से लगा यह जनपद हमेशा से कांग्रेस नेताओं का पसंदीदा रहा है। इंदिरा गांधी अपने चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत यहीं से करती रही हैं। 1998 में सोनिया गांधी की पहली राजनीतिक सभा भी नंदुरबार में ही रखी गई थी। तब कांग्रेस-राकांपा अलग नहीं हुए थे।
नासिक में प्रधानमंत्री की रैली उसी विशाल तपोवन क्षेत्र में हुई, जहां सिंहस्थ कुंभ के दौरान साधुग्राम का निर्माण किया जाता है और लाखों संत करीब डेढ़ माह वहां निवास करते हैं। रैली का माहौल बनाने के लिए मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की महाजनादेश यात्रा एक दिन पहले ही नासिक पहुंच गई थी। फडणवीस की जनादेश यात्रा का स्वागत पहले मोटरसाइकिल रैली से किया गया, फिर नासिक में उन्होंने मेगा रोड शो भी किया।

नासिक किसान आंदोलन का भी गढ़ रहा है। कुछ किसान संगठनों द्वारा यहां फडणवीस की यात्रा का विरोध करने की चेतावनी दी गई थी। ऐसे संगठनों को पुलिस द्वारा पहले ही नोटिस देकर विरोध से दूर रहने को कहा गया है। सांगली में भी महाजनादेश यात्रा को विरोध का सामना करना पड़ा था। नासिक राकांपा के दिग्गज नेता छगन भुजबल के साथ-साथ राज ठाकरे की महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना का भी मजबूत गढ़ माना जाता है। मनसे की तरफ से भी प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के विरोध की घोषणा की गई है। हालांकि, भुजबल के जल्दी ही शिवसेना मेंशामिल होने की अफवाहें सुनाई दे रही हैं। PLC

Comments

CAPTCHA code

Users Comment