Monday, March 30th, 2020

सात गुना बढ़ा दूध उत्पादन

राजकोट | मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि पिछले 20 वर्षों में दूध उत्पादन 7 गुना बढ़ा है जिसका सीधा फल राज्य की जनता को मिल रहा है। शनिवार को राजकोट के हेमु गढवी हॉल में ‘गीर गाय गोल्ड दूध वितरण योजना’ का उद्घाटन करते हुए उन्होंने यह बात कही। इस योजना को साकार करने के लिए उन्होंने अरविंदभाई मणियार चेरिटेबल फाउंडेशन को बधाई दी।  


विजय रूपाणी ने कृषि, पशुपालन और मत्स्योद्योग के विकास के लिए राज्य सरकार की प्रतिबद्धता व्यक्त करते हुए इस क्षेत्र के विकास के लिए राज्य सरकार द्वारा क्रियान्वित की गई विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि करूणा एंबुलेंस, कैटल कैंप, पशु रोग निदान शिविर आदि के जरिए पशुपालन उद्योग को गतिशील करेंगे और उसका लाभ राज्य की जनता तक पहुंचाएंगे। मुख्यमंत्री ने स्पष्ट कहा कि पूरे देश में गोहत्या के खिलाफ सर्वाधिक कड़ा कानून गुजरात में लागू किया है। उन्होंने राज्य में नवगठित जिलों में दूध मंडली और सहकारी दूध उत्पादक संघ की स्थापना करने का जिक्र करते हुए कहा कि राज्य सरकार के इन कदमों से पशुपालकों की आय दोगुनी से अधिक हो गई है। 


उल्लेखनीय है कि अरविंदभाई मणियार चेरिटेबल फाउंडेशन की ओर से राजकोट के नागरिकों को नो प्रॉफिट-नो लॉस के आधार पर गीर गाय का ए-2 गोल्ड दूध मुहैया कराने की योजना शुरू की गई है। कार्यक्रम में गीर गाय का महत्व दर्शाने वाला वृत्त चित्र प्रस्तुत किया गया। पूर्व सांसद डॉ. वल्लभभाई कथीरिया ने गीर गाय के दूध के समग्र प्रकल्प की विस्तार से जानकारी दी। छारोड़ी गुरुकुल के स्वामी माधवप्रियदासजी, प्रणामी संप्रदाय के महंत कृष्णमणिजी महाराज, आर्य मंदिर मुंजका के स्वामी परमात्मानंदजी आदि ने आशीर्वचन दिए। 


मुख्यमंत्री सहित महानुभावों ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। सभी महानुभावों को गीर गाय का शुद्ध घी तथा गाय की प्रतिकृति आयोजकों की ओर से भेंट दी गई। PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment