Close X
Saturday, October 24th, 2020

सांसद राव इंद्रजीत सिंह ने छोड़ी कांग्रेस पार्टी हुड्डा हुए खफा

sdasdaआई एन वी सी,
हरियाणा,
हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने सांसद राव इंद्रजीत सिंह द्वारा कांग्रेस पार्टी छोड़ने संबंधी चर्चाओं पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि ‘जो भी कांग्रेस छोड़कर गया है, उसे आखिर में वापिस आना ही पड़ा है, पिछला इतिहास भी यही है।’ पत्रकारों द्वारा मुख्यमंत्री से सांसद राव इंद्रजीत सिंह द्वारा कांग्रेस पार्टी छोड़ने की घोषणा पर टिप्पणी मांगी गई थी। मुख्यमंत्री हुड्डा ने कहा कि ‘राव इंद्रजीत सिंह मेरे दोस्त तथा सहपाठी रहे है। मैं उनके फैसले पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता परंतु आने वाले समय में उन्हें (राव इंद्रजीत सिंह) अहसास होगा कि उन्होंने गलत निर्णय लिया है।’ राव इंद्रजीत सिंह की नाराजगी को लेकर पूछे गये प्रश्न के उत्तर में मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘मनाया उसे जाता है, जो नाराज हो, मुझे तो नाराजगी की कोई बात नज़र नहीं आती।’ पूछे जाने पर कि राव इंद्रजीत सिंह द्वारा पार्टी छोड़ने से कांग्रेस को कोई फर्क पड़ेगा, मुख्यमंत्री  ने कहा कि ‘कांग्रेस एक बहुत बड़ी पार्टी है। राव इंद्रजीत सिंह जो भी आज है, उसमें कांग्रेस पार्टी का योगदान है। उन्होंने कहा कि राव इंद्रजीत सिंह खुद महसूस करेंगे कि उन्होंने ठीक निर्णय नहीं लिया। राव इंद्रजीत सिंह द्वारा पार्टी छोड़ने की स्थिति में दक्षिण हरियाणा की राजनीति में किसी प्रभाव को लेकर पूछे जाने पर  मुख्यमंत्री ने कहा कि उनके लिए पूरा हरियाणा एक है। जहां तक दक्षिण हरियाणा की बात है तो वहां से कैप्टन अजय सिंह यादव, राव दान सिंह, राव नरेन्द्र सिंह, अनिता यादव, राव धर्मपाल और श्रुति चौधरी आते है। इसके अलावा, राव इंद्रजीत सिंह के भाई राव यादवेन्द्र भी वहीं से है।  हरियाणा जनहित कांग्रेस (बीएल) अध्यक्ष कुलदीप बिश्नोई द्वारा कांग्रेस में वापिस आने के संबंध में पूछे गये प्रश्न के उत्तर में मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘राजनीति में संभावनाओं से कभी इंकार नहीं किया जा सकता।’ हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के नये अध्यक्ष की नियुक्ति को लेकर पूछे गये एक प्रश्न के उत्तर में मुख्यमंत्री ने कहा कि इस संबंध में पार्टी द्वारा एक प्रस्ताव पारित करके कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी को भेजा गया है, जब तक कोई निर्णय नहीं होता, तब तक श्री फूलचंद मुलाना प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष रहेेंगे। उन्होंने कहा कि पार्टी ने विधानसभा चुनाव भी श्री मुलाना के नेतृत्व में लड़ा था और पार्टी मजबूत है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment