Wednesday, May 27th, 2020

सरकार पर लगाये गये आरोप झूठ का पुलिन्दा और तथ्यहीन : बी.एस.पी.

सुरेंदर अग्निहोत्री, आई.एन.वी.सी. लखनऊ, बहुजन समाज पार्टी के प्रवक्ता ने कांग्रेस के नेता श्री दिग्विजय सिंह द्वारा आज दिल्ली में एक प्रेस कांफ्रेन्स में राज्य सरकार पर लगाये गये आरोपों को झूठ का पुलिन्दा और तथ्यहीन बताया है। उन्होंने कहा कि जैसे-जैसे विधान सभा चुनाव का समय नजदीक आ रहा है, कांग्रेस पार्टी के नेतागण सुर्खियां बटोरने के लिए इधर-उधर अनाप-शनाप बयानबाजी करते घूम रहे हैंं। उन्होंने कहा कि चूंकि श्री सिंह के पास कोई कार्य नहीं है, इसलिए यह आये दिन प्रेस कांफे्रन्स करके मीडिया को ऊल-जलूल बातें बताते रहते हैं, जिसका कोई मतलब नहीं निकलता है। प्रवक्ता ने कहा कि श्री सिंह का यह आरोप कि प्रदेश में बर्बरता का राज है, सरासर गलत है। प्रवक्ता ने कहा कि प्रदेश की पूर्ववर्ती सरकार में गुण्डों, माफियाओं एवं असामाजिक तत्वों का राज था, तब श्री सिंह ने उनके खिलाफ न तो कोई बयान दिया और न ही कोई धरना-प्रदर्शन किया। प्रवक्ता ने कहा कि बी0एस0पी0 सरकार द्वारा प्रदेश में कराये जा रहे विकास कार्य कांग्रेस के नेताओं को अच्छे नहीं लग रहे हैं, इसीलिए वे ऐसे अनर्गल बयान दे रहे हैं। बी0एस0पी0 प्रवक्ता ने श्री सिंह द्वारा न्यायिक जांच की मांग को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि ग्रेटर नोएडा में भूमि का अधिग्रहण किसानों की सहमति के साथ करार नियमावली के अन्तर्गत शान्तिपूर्ण ढंग से किया गया था और किसानों को उनका पूरा मुआवजा भी दे दिया गया था, जो उन्होंने ले भी लिया था। उन्होंने कहा कि ग्रेटर नोएडा की घटना वास्तव में अधिग्रहण से सम्बन्धित नहीं है, वरन कांग्रेस जैसी राजनैतिक पार्टियों द्वारा रचे गये कुचक्र का परिणाम थी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सहित अन्य विपक्षी पार्टियों ने भोले-भाले किसानों को बरगला कर और अवांछनीय तत्वों को शह देकर इस घटना को अञ्जाम दिया। चूंकि यहां पर स्थिति पूरी तरह से शान्तिपूर्ण है और अधिग्रहण की प्रक्रिया पहले ही पूर्ण हो चुकी थी, ऐसे में अब किसी प्रकार की न्यायिक जांच की कोई आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा कि असामाजिक एवं आपराधिक तत्वों द्वारा कानून-व्यवस्था की स्थिति को बिगाड़ने का जो गन्दा प्रयास किया गया था, उसको प्रदेश की पुलिस ने शान्तिपूर्वक ढंग से निपटा दिया। प्रवक्ता ने कहा कि कांग्रेस नेता द्वारा फसलों को जलाये जाने से सम्बन्धित बयान शरारतपूर्ण है, क्योंकि खेतों में आग आपराधिक तत्वों द्वारा माहौल को बिगाड़ने के लिए लगायी गई थी। परन्तु पुलिस ने इस स्थिति पर तत्परता से काबू पा लिया। उन्होंने कहा कि जहां तक राख के ढेर से हडि्डयां मिलने का प्रश्न है तो श्री सिंह सनसनी फैलाने के लिए ऐसे बयान अक्सर देते रहते हैं, ताकि उनको मीडिया में जगह मिल सके। प्रवक्ता ने कहा कि मारे गये पुलिस कर्मियों के परिवारों को पांच-पांच लाख रूपये की सहायता दिये जाने का जहां तक प्रश्न है, तो यह पुलिस कर्मी ड्यूटी पर थे और शान्ति व्यवस्था बनाये रखने का प्रयास कर रहे थे और इसी प्रयास में उनकी जान गई। ऐसे में उनके आश्रितों को यह सहायता सरकार द्वारा प्रदान की गई। प्रवक्ता ने कहा कि बी0एस0पी0 सरकार को इस बात का दु:ख है कि इस घटना में कुछ लोग मारे गये। प्रवक्ता ने कहा कि श्री सिंह द्वारा उत्तर प्रदेश की माननीया मुख्यमन्त्री जी के सम्बन्ध में की गई टिप्पणी माननीया मुख्यमन्त्री जी के करोड़ों समर्थकों व अनुयायियों का अपमान है। उन्होंने कहा कि श्री सिंह को यह जानकारी होनी चाहिए कि पिछले विधान सभा चुनाव में प्रदेश की जनता ने माननीया मुख्यमन्त्री जी के नेतृत्व में बी0एस0पी0 की नीतियों व कार्यक्रमों से प्रभावित होकर बी0एस0पी0 को पूर्ण बहुमत प्रदान किया। उन्होंने कहा कि पूरे देश में बी0एस0पी0 के बढ़ते हुए जनाधार की बदौलत बहुजन समाज पार्टी देश की तीसरी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment