Thursday, July 9th, 2020

सरकार ने शुरू की होम डिलीवरी, मोबाइल ऐप से खरीद सकेंगे शराब

रायपुर | छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में राज्य सरकार ने शराब प्रेमियों की सहूलियत और दुकान में भीड़ कम करने के लिए उसकी घर पर ही आपूर्ति के लिए सेवा शुरू की है. शराब (Liquor In Chhattisgarh) के शौकीन अब मोबाइल ऐप और वेबसाइट के माध्यम से खरीदारी कर सकते हैं. राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि छत्तीसगढ़ सरकार ने सोमवार चार मई से सामाजिक और व्यक्तिगत दूरी का पालन करते हुए राज्य की शराब दुकानों को संचालित करने का निर्देश जारी किया है. राज्य शासन ने सामाजिक दूरी और कोविड-19 के फैलाव को नियंत्रित करने के उद्देश्य से घर पर शराब आपूर्ति की अनुमति प्रदान की है.

अधिकारियों ने बताया कि राज्य की शराब दुकानें छत्तीसगढ़ स्टेट मार्केटिंग कॉरपोरेशन द्वारा संचालित हैं. शराब दुकानों में भीड़ को नियंत्रित करने, सामाजिक और व्यक्तिगत दूरी के पालन को देखते हुए डिलीवरी बॉय के माध्यम से शराब की आपूर्ति की व्यवस्था की शुरुआत की गई है. यह व्यवस्था वर्तमान में ग्रीन जोन में शुरू हो गई है. उन्होंने बताया कि अब वेबसाइट के माध्यम से शराब की आपूर्ति के लिए बुकिंग की जा सकती है. बुकिंग वेबसाइट में जाकर बटन को क्ल्कि कर अथवा गूगल प्ले स्टोर में इससे संबंधित ऐप को एंड्रॉयड मोबाइल में इंस्टॉल किया जा सकता है तथा मोबाइल के माध्यम से भी बुकिंग की जा सकती है.

यह जानकारी देकर ऑनलाइन हो सकती है खरीद

अधिकारियों ने बताया कि ग्राहक को अपना मोबाइल नंबर, आधार कार्ड तथा पूर्ण पता दर्ज कर पंजीयन करना होगा. पंजीयन ओटीपी के माध्यम से कन्फर्म होगा. उन्होंने बताया कि पंजीयन के बाद ग्राहक को लॉगिन करना होगा और उसके बाद इसमें अपने जिले के निकट ‍की एक विदेशी शराब की दुकान, एक देसी तथा एक प्रीमियम शराब दुकान को लिंक करने की सुविधा प्रदान की गई है. ग्राहक की सुविधा के लिए जिले की सभी शराब दुकानों को गूगल मैप पर देखने की सुविधा भी प्रदान की गई है, जिससे ग्राहक आसानी से निकट के दुकान का चयन कर सकता है.

अधिकारियों ने बताया कि चयनित दुकान से शराब घर पर आपूर्ति के लिए बुक की जा सकती है. ग्राहक को संबंधित शराब दुकान में उपलब्ध शराब की सूची और उसका मूल्य प्रदर्शित किया गया है, जिसमें से अपनी पसंद की शराब को अपनी आवश्यकता के अनुसार क्रय कर सकता है. उन्होंने बताया कि ग्राहक एक दुकान से एक बार में 5000 एमएल तक शराब डोर डिलिवरी के माध्यम से प्राप्त कर सकता है.

अधिकारियों ने बताया कि ग्राहक द्वारा बुक की गई शराब सुपरवाइजर द्वारा पैक किए जाने पर ग्राहक को स्वतः ओटीपी प्राप्त हो जाएगी. डिलीवरी बॉय के द्वारा ऑर्डर की गई शराब प्रदान किए जाने पर उन्हें शराब का मूल्य तथा डिलीवरी चार्ज 120 रुपये का भुगतान करना होगा.

बीजेपी ने किया विरोध
इधर राज्य के मुख्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी ने सरकार की इस व्यवस्था का विरोध किया है. विधानसभा में विपक्ष के नेता धरमलाल कौशिक ने कहा है कि शराबबंदी का वादा कर सत्ता में आई सरकार अब शराब को घर-घर पहुंचाने का फैसला कर रही है जो शर्मनाक है. कौशिक ने कहा है कि शराब दुकानें खुलवाने के पूर्व लॉकडाउन को लेकर राज्य सरकार की कोई सुरक्षात्मक तैयारी नज़र नहीं आ रही है. अब डिलीवरी बॉय के माध्यम से शराब प्रदान करने की बात की जा रही है. अब सरकार शराब की घर तक पहुंचाने की सेवा शुरू करेगी. PLC.

 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment