Friday, December 6th, 2019

सरकार ने भारत रत्न जैसे महान सम्मान को मजाक बनाने का प्रयास किया है : हिन्दू महासभा

major dhyan chandआई एन वी सी, दिल्ली,

भारत रत्न के चयन में मेजर धयानचन्द के साथ हुई अनदेखी का मामला अब ओर तूल  पकड़ता जा रहा है  कई पूर्व खिलाड़ियों, राजनेताओं के बाद अब हिन्दू महासभा भी इस मामले में शामिल हो गया है ! अखिल भारत हिन्दू महासभा ने यूपीए सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि उसने जल्दबाजी करके सचिन तेंदुलकर जैसे महान खिलाड़ी को विवादित बना दिया है. राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्र प्रकाश कौशिक, राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा, राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेश त्यागी एवं दिल्ली प्रदेश के संगठन मंत्री मिथिलेश कुमार सिंह ने केंद्र सरकार की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि लोकसभा चुनावों को ध्यान में रखते हुए जिस प्रकार सचिन तेंदुलकर को भारत रत्न देने का फैसला किया गया है, उस पर प्रश्न उठना स्वाभाविक है. हिन्दू महासभा नेताओं ने कहा कि क्रिकेट में भी सचिन से ज्यादा सम्माननीय कपिलदेव और महेंद्र सिंह धोनी का नाम आता हैं, जिन्होंने भारतवर्ष को विश्वकप विजेता बनाया. हिन्दू महासभा ने मेजर ध्यानचंद को भारत रत्न नहीं दिए जाने पर गहरी निराशा जाहिर करते हुए उनके लिए भारत रत्न की मांग की. वहीँ दूसरी तरफ प्रख्यात हिन्दू महासभाई एवं स्वतंत्रता सेनानी वीर सावरकर को भारत रत्न देने की मांग की. हिन्दू महासभा नेताओं ने कांग्रेस गठबंधन को चेतावनी देते हुए कहा कि सरकार ने  भारत रत्न जैसे महान सम्मान को मजाक बनाने का प्रयास किया है,भारत रत्न जैसे महान सम्मान को मजाक बनाने का प्रयास नहीं किया जाना चाहिए, अन्यथा इस सम्मान की गरिमा कम हो सकती है.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment