कृषि-एवं-पशुपालन-मंत्री-प्रभुलाल-सैनीकृषि-एवं-पशुपालन-मंत्री-प्रभुलाल-सैनीआई एन वी सी न्यूज़
जयपुर,
कोटा जिले को खुले में शौच मुक्त करने की दिशा में एक कदम आगे बढ़ाते हुए रविवार को कृषि, पशुपालन मंत्री एवं जिला प्रभारी मंत्री प्रभुलाल सैनी, सांगोद विधायक हीरालाल नागर एवं जिले के जनप्रतिनिधियों व प्रशासनिक अधिकारियों की उपस्थिति में सांगोद पंचायत समिति की ग्राम पंचायत सावनभादो में गौरव यात्रा निकालकर खुले में शौचमुक्त घोषित किया गया।
इस अवसर पर आयोजित समारोह में उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए जिला प्रभारी मंत्री ने कहा कि हर घर में शौचालय बनने से बीमारियों से छुटकारा मिलेगा वहीं महिलाओं का आत्मसम्मान बना रहेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश भर में जो भी प्रचायत खुले में शौचमुक्त हो रही है वहां खुशहाली आ रही है। देश के प्रधानमंत्री एवं प्रदेश की मुख्यमंत्री का सपना हर घर में शौचालय एवं हर गांव को खुशहाल देखना है। यह तभी संभव होगा जब राज्य के सभी गांवों में सावन भादो पंचायत के जैसे जागरूक नागरिक होंगे।
उन्होंने कहा कि सरकार ने गत दो वर्षों में प्रत्येक ग्राम पंचायत में गौरव पथ का निर्माण, शिक्षा, चिकित्सा के क्षेत्र में समस्याओं का निराकरण करने का कार्य किया है। गांव एवं किसान के विकास हेतु योजनाओं को अमलीजामा पहनाया है। आपदा राहत की राशि में बढ़ोतरी कर 2 हजार 600 करोड़ रुपये  का मुआवजा किसानों को वितरित किया गया है। उन्होंने ग्रामीणों से गुटखा एवं तम्बाकू को त्याग कर गांव को आदर्श गांव के रूप में विकसित करने का आव्हान किया।
विधायक हीरालाल नागर ने कहा कि क्षेत्र के विकास में किसी तरह की कमी नहीं रहेगी, प्रत्येक गांव को आदर्श रूप में विकसित किया जायेगा। उन्होंने कहा कि गांव को 24 घण्टे विद्युत आपूर्ति के लिए इसी माह से प्रस्ताव बनवाया जावेगा। सावनभादों बांध को मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन योजना में सुदृढ़ कर विस्तार किया जावेगा। उन्होंने कहा कि गांव में उनके द्वारा कचरा पात्र उपलब्ध कराये गये हैं, उनका उपयोग कर गांव को साफ स्वच्छ भी बनाने में सभी मिलकर कार्य करें।
जिला कलक्टर डॉ. रविकुमार सुरपुर ने कहा कि सावनभादो पंचायत को मॉडल पंचायत के रूप में विकसित कर यहां सभी प्रकार की सुविधाएं विकसित की जावेगी ताकि अन्य पंचायतों के जनप्रतिनिधि इसका अनुसरण कर सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here