Saturday, July 4th, 2020

सरकार के दबाव में इंडिगो को वापस लेना पड़ा यह कदम

नई दिल्ली ।  ‎‎किफायती उड़ान सेवा देने वाली निजी विमानन कंपनी इंडिगो मई से अपने वरिष्ठ कर्मचारियों के वेतन में कटौती करेगी। इसके अलावा मई, जून और जुलाई में कुछ कर्मचारियों को बिना वेतन की छुट्टियों पर भी भेजेगी। कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रणजय दत्ता ने इस संबंध में कंपनी के कर्मचारियों को ई-मेल संदेश भेजा है। कोविड-19 संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए देशभर में 25 मार्च से लॉकडाउन है। इसके चलते लोगों की आवाजाही पर पाबंदी है।

 

विमानन उद्योग को भी भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है। ई-मेल संदेश के मुताबिक दत्ता ने कहा ‎कि हमने मार्च और अप्रैल में कर्मचारियों का पूरा वेतन दिया। अब हमारे पास मूल रूप से घोषित वेतन कटौती को मई 2020 से लागू करने के सिवाय कोई विकल्प नहीं बचा है।‎ ‎बिना वेतन के छुटटी 1.5 से 5 दिनों की होगी और लेवल ए या निचले स्तर के कर्मचारियों के लिए यह लागू नहीं होगा। सूत्रों ने बताया कि कंपनी में ए लेवल के कर्मचारियों की तादाद कंपनी में काम करने वाले कुल कर्मचारियों का 40 फीसदी है और संख्या 27 हजार है। इंडिगो ने 19 मार्च को अप्रैल में भुगतान की जाने वाली सैलरी के लिए कहा था कि वह इसमें 25 फीसदी तक कटौती कर सकती है, लेकिन सरकार के दबाव में उसे यह कदम वापस लेना पड़ा है। PLC.

 
 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment