Close X
Friday, January 22nd, 2021

समय-समय पर मदरसा बोर्ड का औचक निरीक्षण किया जाए

आई एन वी सी न्यूज़
लखनऊ,
उत्तर प्रदेश के नागरिक उड्डयन एवं अल्पसंख्यक कल्याण, हज व वक्फ़ मंत्री नंद गोपाल गुप्ता ‘नंदी‘ ने आज निर्देश दिये हंै कि प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम के तहत संचालित परियोजनाओं को समय से पूरा किया जाए और इसमें किसी भी प्रकार की कोताही नहीं बरती जानी चाहिए। उन्होंने वक्फ बोर्डों की वक्फ संपत्ति का तत्काल डिजिटलाइजेशन सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि वक्फ की जमीन पर अनाधिकृत रूप से कब्जा जमाए लोगों से इसे खाली कराया जाए। जमीन को खाली न करने वालों के विरुद्ध एफ.आई.आर दर्ज कराकर वैधानिक कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। उन्होंने विभागीय अधिकारियों की राजपत्रित नियमावली, मदरसा बोर्ड, शिक्षकों की नियमावली तथा राज्य हज समिति नियमावली को शीघ्र बनाने के भी निर्देश दिए।
श्री नंदी आज अपने विधान भवन स्थित कक्ष में विभागीय कार्यों की समीक्षा कर रहे थे।  उन्होंने प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम, शादी अनुदान, छात्रवृत्ति (राज्य स्तरीय) केन्द्रीय छात्रवृत्ति, मदरसा वेतन/मानदेय का नियमित भुगतान, आई0जी0आर0एस0/ मुख्यमंत्री जनसुनवाई पोर्टल पर प्राप्त शिकायतों के निस्तारण की स्थिति, कोर्ट केस की स्थिति, जी0पी0एफ0/पेंशन/सेवानिवृत्ति/चिकित्सा प्रतिपूर्ति, निदेशालय स्तर पर उपलब्ध अल्पसंख्यक कल्याण एवं वक्फ अनु-2 में प्रचलित/विचाराधीन/लम्बित अनुशासनिक कार्यवाही की स्थिति, वक्फ बोर्ड, आय-व्ययक प्राविधान/व्यय विवरण, सर्वे कमिश्नर वक्फ कार्यालय से सम्बन्धित विवरण के बारे में विस्तार से समीक्षा करते हुए प्रगति की जानकारी की। उन्होंने कहा कि ऐसी परियोजनाएं जिनमें भारत सरकार द्वारा पहली किस्त दी जा चुकी है और अभी भी यह परियोजनाएं लंबित है, उसकी तत्काल सूची तैयार कर समयबद्ध ढंग से कार्य सुनिश्चित किया जाय। उन्होंने प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम का पोर्टल शीघ्र ही बनाने के निर्देश दिए।
श्री नंदी ने कहा कि जनपद शामली के थाना भवन बदायूं के सहसवान एवं सहारनपुर के नरैनी में निर्माणाधीन राजकीय आईटीआई के अवशेष कार्य को शीघ्र पूरा किया जाए शाहजहांपुर जनपद के तिलहर में निर्माणाधीन पॉलिटेक्निक के कार्य की गुणवत्ता पर असंतोष व्यक्त करते हुए कहा कि कार्यदाई संस्था इसका परीक्षण कराकर निर्माण कार्य को जल्द पूरा करें। उन्होंने अल्पसंख्यक विभाग द्वारा कोचिंग संस्था की जमीन को जो उर्दू अकैडमी को दी गई थी तथा वित्त विकास निगम की नोएडा में बने भवन की स्थिति की जानकारी लेते हुए इसके उपयोग हेतु कार्य योजना तैयार कर प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।
मंत्री श्री नंद गोपाल नंदी ने सभी मदरसों को ऑनलाइन किए जाने की समीक्षा करते हुए कहा कि समय-समय पर मदरसा बोर्ड का औचक निरीक्षण किया जाए ताकि मदरसे सुचारू रूप से संचालित होते रहें। उन्होंने मानव संपदा पोर्टल पर मदरसों की फीडिंग का काम शीघ्र करने के निर्देश दिए। छात्रवृत्ति की योजना में केवाईसी के कार्य की अत्यंत धीमी प्रगति पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि इस कार्य को शीघ्र पूर्ण किया जाए और छात्रवृत्ति का कार्य ऑनलाइन सुनिश्चित किया जाए।
अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री ने कहा कि अल्पसंख्यक कल्याण विभाग तथा उससे जुड़े कार्यालय अभी विभिन्न भवनों में संचालित हैं, जिससे लाभार्थियों को अपने कार्य में दिक्कत होती है, उन्हें एक ही भवन में स्थापित करने की कार्यवाही राज्य संपत्ति अधिकारी से मिलकर की जाए।
श्री नंदी ने विभागीय कार्यों की समीक्षा के दौरान कोर्ट केस, पेंशन प्रकरण, वक्फ संबंधी कार्य मुसाफिरखाना, हज हाउस एवं अल्पसंख्यक वित्त एवं विकास निगम अधिकारियों के कार्यों की विस्तार से समीक्षा की। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार अल्पसंख्यक कल्याण के हितार्थ पूरी तरह संवेदनशील है। अधिकारी प्रदेश सरकार की संचालित योजनाओं और कार्यक्रमों का लाभ पारदर्शिता के साथ लाभार्थियों को सुलभ कराना सुनिश्चित करें।
अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के प्रमुख सचिव बीएल मीना ने विभागीय कार्यक्रमों और योजनाओं की प्रगति का विवरण प्रस्तुत करते हुए कहा कि विभागीय कार्यों को पारदर्शिता के साथ संचालित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जिन मामलों के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए हैं उन पर प्राथमिकता से अमल सुनिश्चित किया जाएगा।
ः इस अवसर पर अल्पसंख्यक कल्याण निदेशक सी इंदुमती, विशेष सचिव जेपी सिंह एवं हज कमेटी के मुख्य कार्यपालक अधिकारी श्री डी0एस0 उपाध्याय, रजिस्ट्रार श्री आर0पी0 सिंह, सीईओ श्री राहुल गुप्ता, शिया और सुन्नी वक्फ बोर्ड के कार्यपालक अधिकारी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment