Close X
Thursday, October 29th, 2020

सपा के फैसले से आरजेडी को मिलेगी राहत

बिहार में राष्ट्रीय जनता दल, कांग्रेस और कुछ अन्य दलों का महागठबंधन है। ऐसे में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की पार्टी का राष्ट्रीय जनता दल को समर्थन देना महागठबंधन के लिए एक अच्छा संकेत है। हालांकि बिहार की राजनीति में समाजवादी पार्टी का ज्यादा प्रभाव नहीं है। फिर भी समाजवादी पार्टी कुछ न कुछ फायदा जरूर पहुंचा सकती है।

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी ने बड़ा ऐलान किया है। समाजवादी पार्टी ने बिहार चुनाव में राष्ट्रीय जनता दल के उम्मीदवारों को समर्थन देने का ऐलान किया है। समाजवादी पार्टी ने ट्वीट कर यह जानकारी दी है। ट्वीट में कहा गया है कि आगामी बिहार विधानसभा चुनावों में समाजवादी पार्टी किसी भी पार्टी से गठबंधन ना करते हुए राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के उम्मीदवारों का समर्थन करेगी।

सपा के प्रवक्ता अनुराग भदौरिया ने कहा कि सभी चाहते हैं कि बिहार में जिस तरह से नफरत की राजनीति चल रही है उस पर लगाम लगाई जाए। भारतीय जनता पार्टी और जेडीयू बेरोजगारों को रोजगार नहीं दे रही हैं। जिस तरीके से अपराध हो रहा है, किसान विरोधी बिल पास हो रहे हैं, किसान परेशान हो रहा हैं। हम भी चाहते हैं कि बिहार में युवाओं की बात हो, उनको रोजगार मिले इसलिए हम आरजेडी के साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगे।

दरअसल मुलायम सिंह और लालू यादव रिश्ते में समधी हैं। लालू यादव की छोटी बेटी राज लक्ष्मी की शादी मुलायम सिंह के पोते (मुलायम के बड़े भाई का पोता) तेज प्रताप सिंह यादव से हुई है। पिछले विधानसभा चुनाव में बने महागठबंधन में लालू यादव ने सपा के लिए पांच सीटें छोड़ने का ऐलान किया था। PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment