Monday, November 18th, 2019
Close X

संविधान के अनुच्छेद 8 में शामिल हो बुंदेली भाषा

आई एन वी सी,भोपाल,राज्यपाल राम नरेश यादव ,राज्यपाल, राम नरेश यादव , बुंदेली समारोह, बुंदेली भाषा , भोपाल लोकसभा के सांसद आलोक संजर, अखिल भारतीय बुंदेली साहित्य संघ परिषद के अध्यक्ष , कैलाश मड़वैया, डा. जय कुमार जलज, प्रो.विजय अग्रवाल,आई एन वी सी, भोपाल, राज्यपाल श्री राम नरेश यादव ने आज यहाँ बुंदेल केसरी छत्रसाल की 365 वीं जयंती के अवसर पर बुंदेली समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि बुंदेली कवियों और साहित्यकारों ने स्वतंत्रता आन्दोलन का अलख जगाया वहीं आधुनिक चेतना और ग्रामीण जीवन सहित समाज के हर पहलू पर काव्य प्रस्तुत किये। राज्यपाल श्री यादव ने जन आकांक्षाओं का समर्थन करते हुए कहा कि बुंदेली भाषा को संविधान के अनुच्छेद 8 में शामिल किया जाना चाहिए। उन्होंने पृथक बुंदेलखंण्ड का उल्लेख करते हुए कहा कि इस क्षेत्र के लोगों की जन-भावनाओं का मैं सम्मान करता हूँ और इसके लिए मुझसे जो भी सहयोग हो सकेगा मैं देने को तैयार हूँ। राज्यपाल श्री यादव ने बुंदेली साहित्यकारों, कवियों और समाज सेवियों का शाल, श्रीफल और स्मृति-चिन्ह भेंट कर सम्मान किया। इस अवसर पर भोपाल लोकसभा के सांसद श्री आलोक संजर, अखिल भारतीय बुंदेली साहित्य संघ परिषद के अध्यक्ष श्री कैलाश मड़वैया, डा. जय कुमार जलज, प्रो.विजय अग्रवाल उपस्थित थे। राज्यपाल श्री यादव ने कहा कि बुंदेल केसरी छत्रसाल की तलवार जितनी धारदार थी कलम भी उतनी ही तीक्ष्‍ण थी। वे स्वयं कवि तो थे ही कवियों का श्रेष्ठतम सम्मान भी करते थे। यही कारण है कि देश ही नहीं विश्व के कोने-कोने में बुंदेली समाज और बुंदेली साहित्य लोकप्रिय और समृद्ध है। श्री यादव ने नवयुवकों से आव्हान किया कि वे समाज और देश के शूरवीरों, महान नायकों और विद्वानों के जीवन दर्शन का अध्ययन कर उनके आदर्शों और जीवन मूल्यों को आत्मसात करें साथ ही समाज और देश के विकास में सही ढंग से अपने कर्त्तव्यों का निर्वाह करें। लोकसभा सदस्य श्री आलोक संजर ने कहा कि देश की सेवा सबसे बड़ी सेवा है। हमको हमेशा समाज सेवा में लगे रहना है। उन्होंने महाराज छत्रसाल की प्रतिमा भोपाल में स्‍थापित करने का आव्हान किया। इस अवसर पर राज्यपाल श्री यादव ने छत्रसाल महाराज के चित्र पर माल्यार्पण और दीप प्रज्ज्वलित कर समारोह का उदघाटन किया। समारोह में बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment