Close X
Sunday, January 24th, 2021

संक्रमण की दर में लगातार कमी

आई एन वी सी न्यूज़
भोपाल,
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि राज्य शासन और समाज के सक्रिय सहयोग से कोरोना संक्रमण को रोकने के उपाय कारगर रहे हैं। संक्रमण की दर में कमी आती जा रही है। लेकिन जरा भी ढिलाई नहीं रखनी है। पूरी सावधानी के साथ प्रयास जारी रखने हैं।

मुख्यमंत्री श्री चौहान कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिये मंत्रालय में बैठक को संबोधित कर रहे थे। बैठक में लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी भी शामिल थे। चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से शामिल हुये। बैठक में मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव श्री मोहम्मद सुलेमान और अन्य अधिकारी मौजूद थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि भोपाल और इंदौर में संक्रमण की रोकथाम के लिये अधिक सावधानी बरती जाये। उन्होंने इन दोनों जिलों में निजी तथा शासकीय चिकित्सालयों में बिस्तरों, उपकरणों, ऑक्सीजन की उपलब्धता की जानकारी ली। बताया गया कि सभी व्यवस्थायें पर्याप्त उपलब्ध है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जबलपुर, ग्वालियर, रतलाम, विदिशा और धार में कोरोना संक्रमण के रोकथाम के उपायों की जानकारी ली तथा संतोष व्यक्त किया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इंदौर और भोपाल जिलों में कोरोना संक्रमण रोकने के लिये किये जा रहे कार्यों की विशेष रूप से जानकारी ली। उन्होंने कहा कि इन दो जिलों में विशेष सावधानी रखी जाये तथा जनजागरूकता और कोरोना प्रोटोकाल का पालन कराने के लिए पूरे प्रयास किये जायें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इंदौर और भोपाल के कलेक्टर्स जिला स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप से बात कर लें। यदि रात्रि में बाजार बंद होने का समय 8 बजे से बढ़ाकर 10 बजे करने पर सहमति बनती है, तो अब इन दोनों शहरों में रात्रि 10 बजे बाजार बंद किये जायें। बैठक में इंदौर कलेक्टर ने बताया कि त्यौहारों और शादियों के कारण बढ़ी भीड़ के कारण संक्रमण बढ़ा है। समुदाय के सहयोग से भीड़ को नियंत्रित करने के प्रयास किये जा रहे हैं जिसके सकारात्मक परिणाम शीघ्र मिलने की पूरी उम्मीद है।

होम आइसोलेशन में कोरोना मरीजों से सतत सम्पर्क रखें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि होम आइसोलेशन में कोरोना मरीजों से निरंतर जीवन्त सम्पर्क बना कर रखा जाये। आवश्यकता होने पर उन्हें हॉस्पिटल में शिफ्ट करने में जरा भी देरी नहीं की जाये। बताया गया कि प्रदेश में 62 प्रतिशत कोरोना मरीज होम आइसोलेशन में है। शेष मरीज हॉस्पिटल में हैं। अस्पताल में बेड, ऑक्सीजन, उपकरण आदि व्यवस्थायें पूरी हैं।

जहाँ सावधानी रही वहाँ परिणाम अच्छे आये

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना के प्रति जहां भी सावधानी बरती गयी है वहाँ परिणाम अच्छे आये हैं। अत: मास्क लगायें, निश्चित दूरी बनाये रखी जाये और बार-बार साबुन से हाथ धोयें। होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीज घर से बाहर नहीं निकलें। सरकार प्रत्येक कोरोना मरीज के समुचित इलाज में कोई कसर नहीं छोड़ेगी। उन्होंने कमांड कंट्रोल सेंटर्स की गतिविधियों की भी जानकारी ली।

92.1 प्रतिशत रिकवरी रेट

बैठक में बताया गया कि प्रदेश में एक्टिव केस 13532 हैं। प्रतिदिन औसत 1403 कोरोना संक्रमित मरीज मिल रहे हैं। कोरोना संक्रमित मरीजों के स्वस्थ होने का प्रतिशत बढ़कर 92.1 प्रतिशत हो गया है। औसत पॉजिटिविटी दर 5.5 प्रतिशत है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment