Wednesday, November 13th, 2019
Close X

शैक्षणिक विकास के लिए चल रही है अनेक योजनाएं

आई एन वी सी न्यूज़
जयपुर,
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री मास्टर भंवर लाल मेघवाल ने कहा है कि वर्तमान समय में शिक्षा ही सबसे बड़ी ताकत है। बालिका शिक्षा आज समाज की जरूरत है। बालिका शिक्षा के विकास को लेकर संकल्पबद्ध राज्य सरकार की ओर से इस दिशा में व्यापक कदम उठाए जा रहे हैं।

मास्टर मेघवाल सोमवार को चरू जिले के सुजानगढ़ में राज. झंवर बालिका उमावि, राजकीय कन्दोई बालिका उमावि व राजकीय भींवसरिया बालिका उमावि में आयोजित साईकिल वितरण कार्यक्रमों में संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा स्कूली शिक्षा को बढावा देने के लिए अनेक योजनाओं का संचालन किया जा रहा है तथा विद्यार्थियों को समुचित सुविधाएं दी जा रही हैं। विद्यार्थियों को इन योजनाओं का लाभ उठाते हुए पूरी लगन के साथ पढाई करते हुए अपना भविष्य संवारना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूलों में आज बहुत अच्छी पढाई हो रही है तथा साथ ही विभिन्न योजनाओं का लाभ भी दिया जा रहा है। अभिभावकों को अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों में भेजना चाहिए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की ओर से शैक्षणिक विकास के लिए अनेक योजनाएं चलाई जा रही हैं लेकिन अभिभावकों को भी जागरुक होकर अपने बच्चों को समुचित शिक्षा दिलानी चाहिए। वैज्ञानिक सोच एवं जागरुकता से ही हमारा देश व समाज वास्तविक तरक्की कर सकेगा।

उन्होंने विद्यालय शिक्षकों से भी कहा कि वे राज्य सरकार की ओर से उपलब्ध संसाधनों एवं योजनाओं का लाभ देते हुए बच्चों को बेहतरीन शिक्षा प्रदान करें। उन्होंने बताया कि सुजानगढ़ क्षेत्र में समस्त विद्यालयों में अधिक से अधिक संसाधन, कक्ष निर्माण के लिए वे सतत प्रयास हैं तथा आगे भी किसी प्रकार की कमी किसी विद्यालय में नहीं रहने दी जाएगी। उन्होंने विभिन्न वर्गों के लिए सरकार की ओर से चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी देते हुए बताया कि राज्य सरकार ने पूर्व में पेंशन से वंचित किए गए चार लाख लोगों को पुनः चिन्हित कर उनकी पेंशन शुरू की है। सुजानगढ़ मेंं 2.5 करोड़ रुपए खर्च कर छात्रावास का निर्माण किया जाएगा।

सभापति सिकंदर अली खिलजी ने सुजानगढ़ क्षेत्र के विकास के लिए सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि राज्य के शैक्षणिक विकास के लिए राज्य सरकार की ओर से किए जा रहे कार्य सराहनीय है। उन्होंने कहा कि साईकिल वितरण योजना के माध्यम से बालिका शिक्षा को सशक्त करने की दिशा में एक बेहतर संदेश दिया जा रहा है।

उप प्रधान दीवान सिंह भानीसरिया ने कहा कि वर्तमान समय में सरकार की ओर से शिक्षा को बढावा देने के लिए जबरदस्त प्रयास किए जा रहे हैं। लोगों को इन योजनाओं का लाभ उठाना चाहिए और अपने बच्चों को शिक्षा से जोड़ना चाहिए। सरपंच सविता राठी ने भी विचार व्यक्त किए।

इस दौरान तीनों स्कूलों में 235 साईकिलों का वितरण किया। विद्यार्थियों की ओर से सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। प्रधानाचार्यों ने विद्यालय के प्रगति प्रतिवेदन प्रस्तुत किए। प्रधानाचार्य कुसुम शर्मा, सरोज वीर पूनिया, शीतल मिश्रा, उप प्रधान दीवानसिंह भानीसरिया, सरपंच सविता राठी, उप सभापति बाबूलाल कुलदीप, रामावतार मंगलहारा, धर्मेंद्र कीलका, बजरंग सैन, मुकुल मिश्रा, कन्हैयालाल, आफताब  भाटी, अंकित मारोठिया आदि मौजूद रहे।

इससे पूर्व सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने चांदबास रोड़, मेगा हाई-वे पर मंगल इंडस्ट्रीज का शुभारंभ किया और संचालकों को शुभकामनाएं दीं।  उन्होंने कहा कि इस इंडस्ट्रीज के खुलने से क्षेत्र में रोजगार के अवसर बढेंगे।



 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment