लंदन । पाकिस्तान के पूर्व कप्तान वकार यूनिस ने कहा है कि पाकिस्तान के मौजूदा विश्व में प्रदर्शन की 1992 विश्व कप से तुलना नहीं की जा सकती है। इस प्रकार की तुलना करना ठीक भी नहीं है क्योंकि हमेशा हालात अलग होते हैं। विश्व कप में जिस प्रकार पाकिस्तान टीम खराब शुरुआत के बाद भी दक्षिण अफ्रीका और न्यूजीलैंड के खिलाफ जीत के साथ ही सेमीफाइनल की दौड़ में शामिल हो गयी है। 

 

उसकी तुलना 1992 से की जा रही है। तब भी पाक टीम ने विश्व कप में शुरुआती हार के साथ धीमी शुरूआत करते हुए अंत में ट्राफी हासिल की थी। वकार ने कहा, ‘‘1992 के साथ की जा रही तुलना की अनदेखी करना असंभव है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ये समानतायें महज संयोग है और यहां तक कि खिलाड़ी भी इसके बारे में नहीं सोच रहे होंगे हालांकि वे भी इसे अपने दिमाग से पूरी तरह से बाहर नहीं  रख सकते।’’ वकार ने कहा, ‘‘वे इस दिशा में आगे बढ़ रहे हैं और वे क्वालीफाई कर सकते हैं और अगर ऐसा होता है तो और अगर वे विश्व कप जीत लेते हैं तो यह बहुत ही खास होगा।’’इससे पाक क्रिकेट का हौंसला भी बढ़ेगा। PLC.