Tuesday, August 11th, 2020

विभिन्न प्रजातियों के फूलों से गुलजार राजभवन

c05223be-1ea2-4c54-9d3c-c5c6355c835fआई एन वी सी न्यूज़
देहरादून,
राज्यपाल डा0 कृष्ण कांत पाल के दिशा-निर्देशन में, 46 प्रकार के फूलों की प्रजातियों से गुलजार राजभवन, पुष्प प्रदर्शनी, 2016 की मेजबानी के लिए लगभग पूरी तरह तैयार हो चुका है। राजभवन में खिले लिलियम, ट्यूलिप, कैल्सियलोरिया, रेनिनक्यूलस, साइक्लामिन, प्रिमूला, फ्यूशिया, स्वीट विलियम जैसे कुछ फूल अगल ही छटा बिखेर रहे हैं। नवस्थापित नक्षत्र वाटिका के साथ ही राजभवन परिसर का प्रत्येक कोना अब सुन्दर पेड़-पौधों और लताओं से सुसज्जित हो रहा है। उद्यान विभाग के तत्वाधान में, राजभवन में प्रतिवर्ष होने वाले ‘पुष्प प्रदर्शनी/वसन्तोत्सव 2016’ की तैयारियाँ जारी हैं। राजभवन में 5 और 6 मार्च, 2016 को आयोजित होने जा रहे ‘वसन्तोत्सव/ पुष्प प्रदर्शनी’ में आने वाले जनसामान्य को इस बार राजभवन के उद्यान की अनोखी रौनक आकर्षित करने के साथ ही उन्हें प्रकृति के नजदीक रहने को प्रेरित करेगी।  पर्यावरण संरक्षण की दृष्टि से इसके सुखद  दूरगामी परिणाम होंगे। इस वर्ष राजभवन के अपने परिसर में 46 विभिन्न प्रकार के फूलों के खिलने से बसन्त की सारी कल्पनायें साकार दिखाई दे रही हैं। राज्यपाल स्वयं राजभवन के उद्यान से जुड़े कर्मियों को समय-समय दिशा-निर्देश देते हैं तथा उद्यान परिसर का निरीक्षण भी नियमित रूप से करते हैं। उन्हीें के निर्देशों पर प्रायोगिक तौर पर पहली बार राजभवन मंे लगाये गए ‘ट्यूलिप’ पर आये फूलों ने उत्तराखण्ड में ट्यूलिप की व्यावसायिक खेती की सम्भावनायें जगा दी हैं।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment