Tuesday, February 25th, 2020

विधानसभा परिसर में धरने पर बैठे सपा विधायक

लखनऊ. यूपी विधानसभा (UP Assembly) के बजट सत्र (Budget Session) की कार्यवाही शुरू होने से पहले गुरुवार को सपा (Samajwadi Party) विधायकों ने विधान भवन स्थित चरण सिंह की प्रतिमा के नीचे धरने (Dharna) पर बैठ गए. सपा के दोनों सदनों के सदस्यों ने इस दौरान नागरिकता संशोधन कानून, बेरोजगारी, महंगाई, महिलाओं पर अत्याचार, गन्ना, धान व आलू किसानों की समस्याओं को लेकर योगी सरकार पर निशाना साधा. सपा के सभी एमएलए और एमएलसी चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के पास धरने पर करीब 1 घंटे तक बैठे रहे.

इस दौरान सपा विधायकों ने हाथों में तख्ती ले रखी थी. साथ ही वे संविधान बचाओ देश बचाओ के नारे भी लगा रहे थे. बता दें कि आज से विधानसभा का बजट सत्र शुरू हो रहा है. यह सत्र 13 फरवरी से 07 मार्च तक चलेगा. इस दौरान 18 फरवरी को दोपहर 12.20 पर उत्तर प्रदेश का बजट पेश किया जाएगा. यह मौजूदा वित्तीय वर्ष का  बजट होगा.

नेता विरोधी दल रामगोविंद चौधरी की अगुवाई में हुआ धरना

विधानसभा में समाजवादी पार्टी के नेता विरोधी दल रामगोविंद चौधरी के अगुवाई में होने वाले इस धरने में विधान परिषद में नेता विपक्ष अहमद हसन भी मौजूद रहे. समाजवादी पार्टी के सभी एमएलए और एमएलसी धरने के दौरान मौजूद रहे. नेता विरोधी दल रामगोविंद चौधरी ने कहा कि " बीजेपी सरकार अभी तक कोई भी अपना काम नहीं शुरू कर पाई है और अखिलेश यादव के जरिए किए गए कामों का ही उद्घाटन हो रहा है. सरकार यह नहीं बता सकती है कि उन्होंने कोई भी 25 फीट ऊंची इमारत ही बना दी हो. योगी सरकार अब रिजर्वेशन से भी छेड़खानी कर रही है. साथ ही दलितों और पिछड़ों के हक को मारने की साजिश बना रही है. सरकार प्राइवेट लिमिटेड लोगो की ही मदद कर रही है और निजीकरण को ही बल दे रही है.  आखिर जनता को कब तक गुमराह किया जाएगा". PLC

 
 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment