Friday, August 7th, 2020

विकास दुबे एनकाउंटर में ढेर

कानपुर | कानपुर के बिकरू गांव में सीओ सहित आठ पुलिस वालों की हत्या करने वाले पांच लाख का इनामी विकास दुबे एनकाउंटर में ढेर हो गया है। एसटीएफ गाड़ी उसे कानपुर ला रही ला रही थी। इस दौरान गाड़ी पलट गई। उसने हथियार छीकर भागने की कोशिश की। जिसके बाद पुलिस ने उसे मुठभेड़ में मार गिराया है। कल ही विकास दुबे उज्जैन के महाकाल मंदिर परिसर से गिरफ्तार किया गया था। वारदात के बाद से फरार विकास यूपी, दिल्ली, हरियाणा और मध्य प्रदेश पुलिस को चकमा देकर दर्शन करने मंदिर पहुंचा था। गिरफ्तारी के बाद विकास से पुलिस ट्रेनिंग सेंटर में दो घंटे से ज्यादा पूछताछ की गई। इसके बाद उसे मध्यप्रदेश पुलिस ने यूपी एसटीएफ को सौंप दिया थ्ाा। विकास दुबे की एनकाउंटर को लेकर राजनीतिक प्रतिक्रियाएं आना शुरू हो गई हैं। सबसे पहले समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने इस पर तंज कसा है। उनका कहना है कि ' दरअसल ये कार नहीं पलटी है, राज खुलने से सरकार पलटने से बचाई गयी है।

जवाबी फायरिंग में विकास को चार गोलियां लगीं
गाड़ी पलटी तो विकास ने भागने की कोशिश की। एक पुलिसकर्मी की 9 एमएम की पिस्टल लेकर भागा। पलटकर गोली चलाई। एसटीएफ की जवाबी फायरिग में विकास को चार गोलियां लगी हैं।

घटना की पूरी जानकारी प्रेसवार्ता के माध्यम से दी जाएगी
एडीजी जय नारायण सिंह का कहना है कि अभी मैं इतना ही कह सकता हूं कि विकास दुबे मारा गया है। इस घटना की पूरी जानकारी प्रेसवार्ता के माध्यम से दी जाएगी।

2 इंस्पेक्टर समेत 4 पुलिसकर्मी घायल
अब सूचना आ रही है कि मुठभेड़ में 2 इंस्पेक्टर समेत 4 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

2 इंस्पेक्टर समेत 4 पुलिसकर्मी घायल
अब सूचना आ रही है कि मुठभेड़ में 2 इंस्पेक्टर समेत 4 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

स्थानीय लोगों ने सुनी गोलियों की आवाज
कानपुर से लगे भौती में हुआ एनकाउंटर। स्थानीय लोगों ने सुनी गोलियों की आवाज।

विकास दुबे को लगीं दो से तीन गोलियां
विकास दुबे को दो से तीन गोलियां लगने की बात सामने आ रही है। इस बात की आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।

एसटीफ के दो जवान घायल
मुठभेड़ में एसटीफ के दो जवानों के घायल होने की सूचना भी है। उनका प्राथमिक उपचार किया जा रहा है।

गाड़ी की रफ्तार तेज होने की वजह से गाड़ी पलट गई
हादसे को लेकर यूपी एसटीएफ के अफसर अभी कुछ बोलने से बच रहे हैं, लेकिन माना जा रहा है कि तेज बारिश और गाड़ी की रफ्तार तेज होने की वजह से गाड़ी पलट गई।

भागने की कोशिश कर रहा था विकास दुबे
बताया जा रहा है कि गाड़ी पलटने के बाद भागने की कोशिश कर रहा था विकास दुबे। उसने हथियार छीनने की कोशिश की थी।
 
एसएसपी और आईजी हैलट पहुंचे
एसएसपी और आईजी हैलट पहुंच गए हैं। कानपुर से करीब दो किलोमीटर पहले यह हादसा हुआ है, कुछ लोग घायल हुए हैं।

आईजी रेंज मोहित अग्रवाल मौके पर जा रहे
आईजी रेंज मोहित अग्रवाल मौके पर पहुंच रहे हैं। वहीं हादसे में घायल सिपाहियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। PLC.
 
 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment