Saturday, April 4th, 2020

लापरवाही कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी

आई एन वी सी न्यूज़ लखनऊ, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री यागी आदित्यनाथ जी न आज जनपद सिद्धार्थनगर के अपने भ्रमण के दौरान टीकाकरण अभियान में खामियां पान पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 वी0पी0 शर्मा का तत्काल प्रभाव से निलम्बित करक उन्हें डी0जी0 कार्यालय से सम्बद्ध करन के निर्देश दिए। उन्होंन कहा कि राज्य सरकार प्रदश की  गरीब जनता का हर हाल में अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है। इसमें किसी भी प्रकार की काताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंन श्रीमती गीता दवी निवासी ग्राम बिशुनपुर गौराही द्वारा थाने में दर्ज करायी गई शिकायत के निराकरण में हीलाहवाली करने वाले इटवा थाना के एस0आ0 तथा एस0आई0 को भी तत्काल प्रभाव से निलम्बित करन के निर्देश दिए। उन्हांन कहा कि जनशिकायतां के समाधान में लापरवाही कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्हांने पीड़ित की शिकायत का तुरन्त समाधान करन के भी निर्देश दिए। मुख्यमंत्री जी न जनपद के भ्रमण के दौरान संयुक्त जिला चिकित्सालय में 100 शैय्या युक्त मातृ एवं शिशु चिकित्सालय के नवनिर्मित भवन का लोकार्पण किया। उन्हांने संयुक्त जिला चिकित्सालय में गरीब, असहायां तथा सभी वर्ग के लागां के लिए सी0टी0 स्कैन सुविधा का भी शुभारम्भ करन के उपरान्त संयुक्त जिला चिकित्सालय का निरीक्षण भी किया। उन्हांने जनपद में ‘स्कूल चला अभियान’ की भी शुरुआत की। कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री जी द्वारा कपिलवस्तु महोत्सव-2017 पर केन्द्रित स्मारिका पंचशील 2017 का विमाचन किया गया। मुख्यमंत्री जी द्वारा लगभग 52 कराड़ रुपये की 34 परियाजनाआं का शिलान्यास/लोकार्पण किया गया। कार्यक्रम के दौरान उन्हान 10 बच्चां को निःशुल्क किट प्रदान कीं, जिसमं स्कूली बैग, ड्रस, पाठ्य पुस्तक, जूता-मोजा तथा न्य सामग्री शामिल हैं। उनके द्वारा जे0ई0/ए0ई0एस0 रोग से प्रभावित तीन लागां को भारत सरकार रुपय की सहायता राशि भी प्रदान की गयी। इस अवसर पर आयाजित कार्यक्रम को सम्बोधित करत हुए मुख्यमंत्री जी ने कहा कि उ0प्र0 सरकार द्वारा भगवान बुद्ध की इस पावन धरती से आज से दा महत्वपूर्ण कार्यक्रमां का शुभारम्भ किया जा रहा है। इनमें 02 से 30 अप्रैल, 2018 के दौरान ‘स्कूल चला अभियान’ और 02 से 16 अप्रैल, 2018 तक चलने वाला ‘विशष संचारी राग नियंत्रण पखवाड़ा’ शामिल हैं। उन्होंन कहा कि प्रदश में शिक्षा के स्तर मं सुधार करन तथा बच्चां का पढ़ाई का अच्छा वातावरण उपलब्ध करान के उद्दश्य से उ0प्र0 सरकार द्वारा प्राथमिक/पूर्व माध्यमिक विद्यालयों में शिक्षा ग्रहण  कर रह बच्चां को ड्रेस, जूता-मोजा, स्वेटर, बैग और पाठ्य पुस्तकों का वितरण कराया गया। इसके साथ ही, 01-15 वर्ष तक के बच्चों को जापानी इंसेफेलाटिस का टीका भी लगाया जा रहा है। उन्होंन कहा कि जनपद में 04 वर्ष की आयु का काई भी बच्चा विद्यालय जान से किसी भी दशा में वंचित न रहन पाये इसकी सम्पूर्ण जिम्मेदारी शिक्षा विभाग के अधिकारियां, शिक्षकां व कर्मचारियां की है। यागी जी न कहा कि ‘दस्तक अभियान’ के तहत स्वास्थ्य विभाग क कर्मचारियां द्वारा जनपद के समस्त 01-15 वर्ष की आयु वाले बच्चां का टीकाकरण कराया जायगा। उन्होंन जिलाधिकारी एवं स्वास्थ्य विभाग क अधिकारियां/कर्मचारियां का कड़ निर्देश दते हुए कहा कि जनपद का काई भी बच्चा टीकाकरण के कार्य से किसी भी दशा में छूटन न पाय। उन्हांन कहा कि यदि इस पखवाड़ के तहत कोई शिकायत प्राप्त हुई ता दाषियां के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी। इस कार्यक्रम मं जनसहभागिता आवश्यक है। मुख्यमंत्री जी न कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरन्द्र मादी जी द्वारा बालिकाआं का शिक्षित बनान के उद्दश्य से पूरे देश में ‘बेटी बचाआ-बेटी पढ़ाआ’ अभियान शुरू किया गया है। उन्होंन कहा कि जनपद सिद्धार्थनगर पिछड़ जनपद की श्रणी में आता है। ऐसे में, शिक्षा के स्तर में सुधार सुनिश्चित कर इसे पिछड जनपदों की श्रणी से बाहर लाया जायगा। उ0प्र0 सरकार न संकल्प लिया है कि प्रदश की शिक्षा व्यवस्था में हर हाल में गुणवत्ता सुनिश्चित की जाएगी। मुख्यमंत्री जी न कहा कि जनपदवासियां का बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करान के उद्दश्य से सिद्धार्थनगर का एक मेडिकल कालेज आवंटित किया गया है। शीघ्र ही इसका शिलान्यास किया जायेगा। उन्होंन कहा कि किसानां और लोगों का मिट्टी मिलने में आ रही दिक्कतां के मद्देनजर उ0प्र0 सरकार न मिट्टी को रायल्टी फ्री कर दिया है। अब किसान अपन खत से मिट्टी खनन कर सकत है। यागी जी ने जिलाधिकारी का निर्दश दिय कि बालू, मौरंग के पट्ट जारी किए जान की कार्यवाही शीघ्रतिशीघ्र पूर्ण करत हुए बालू, मौरंग के खनन का कार्य जल्द से जल्द शुरू किया जाए, जिससे स्थानीय लागां का सस्त में बालू एवं मौरंग उपलब्ध हा सके और आम नागरिक कम लागत पर अपने पक्के मकान बना सकें। उन्होंन कहा कि प्रदश सरकार इंर्ट भट्ठा मालिकां से वार्ता करके ईंट का रेट कम करन के लिए प्रयास कर रही है। इसके लिए इंर्ट भट्ठां का दी जान वाली मिट्टी का प्रदश सरकार रायल्टी फ्री करने पर भी विचार कर रही है। उन्होंने जिलाधिकारी का निर्दश दिये कि जनपद के ईंट भट्ठा मालिकां से वार्ता करके इंर्ट का रट कम कराये जाने की कार्यवाही सुनिश्चित करें। मुख्यमंत्री जी न कहा कि प्रदश में विकास कार्य समयबद्ध और गुणवत्तापूर्ण ढंग से किय जा रह हैं। उन्हांने कहा कि भारत सरकार द्वारा घाषित आकांक्षात्मक जनपदों की रूपान्तरण याजना के तहत सिद्धार्थनगर का शामिल किया गया है, इससे जनपद का त्वरित विकास सुनिश्चित हा सकेगा। जनपद के विकास में काई कमी नहीं रहन पायेगी।  कार्यक्रम के उपरान्त मुख्यमंत्री जी द्वारा मलिन बस्ती मा0 शखनगर की साफ-सफाई व्यवस्था का निरीक्षण किया गया। उन्होंन बस्ती की साफ-सफाई पर संतुष्टि व्यक्त की। इसके पश्चात उन्हांने तहसील नौगढ़ के विकास खण्ड-उसका बाजार के अन्तर्गत ओ0डी0एफ0 ग्राम भिटिया का भी निरीक्षण किया। उन्होंन ग्राम पंचायत भिटिया के प्राथमिक विद्यालय में शिक्षा ग्रहण कर रह बच्चां से सीधे जानकारी प्राप्त की।  कार्यक्रम के दौरान चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री श्री सिद्धार्थनाथ सिंह, खल मंत्री श्री चेतन चौहान, आबकारी मंत्री श्री जय प्रताप सिंह, बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीमती अनुपमा जायसवाल, सांसद श्री जगदम्बिका पाल सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण, वरिष्ठ अधिकारी तथा गणमान्य नागरिक मौजूद थ।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment