आई एन वी सी न्यूज़
लखनऊ,
भारतीय जनता पार्टी लखनऊ महानगर द्वारा सीएमएस गोमतीनगर सभागार में मध्य विधानसभा एवं सेंट जोजफ कालेज बालागंज लखनऊ में पश्चिम विधानसभा के कार्यकर्ताओं का अभिनंदन समारोह आयोजित किया गया।


रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कार्यक्रम में कार्यकर्ता का जोश बढ़ाते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने लखनऊ संसदीय सीट पर भाजपा को ऐतिहासिक जीत दिलाई है। अब तक के लखनऊ संसदीय इतिहास में ऐसी जीत नहीं हुई है। कार्यकर्ताओं के परिश्रम और लखनऊ की जनता के आर्शीवाद और सहयोग की वजह से आज हम लोगों को इतनी बड़ी कामयाबी मिली है। पिछली बार जब मैं लखनऊ आया था तो महानगर अध्यक्ष मुकेश शर्मा ने कहा था कि कार्यकर्ताओं ने बड़ी ईमानदारी से मेहनत की है और अब हमारी बारी है हम बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं का अभिनंदन करना चाहते हैं तो हमने कहा कि अवश्य अगली बार कार्यक्रम बना लें।


किसी भी राजनीतिक पार्टी की सबसे बड़ी ताकत बूथ स्तर पर काम करने वाला कार्यकर्ता होता है भले ही कोई भी बड़े-बड़े पदों पर बैठकर अपने आपको बड़ा कार्यकर्ता मानता हो पर राजनाथ सिंह बूथ पर कार्य करने वाले कार्यकर्ताओं को ही सबसे बड़ा नेता मानता है।


भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं की वजह से ही भारतीय जनता पार्टी को पूरे देश में 303 सीटें मिली हैं। हम सब जिस धारा 370 की चर्चा करते थे कि जब हमारी सरकार आयेगी तो धारा 370 हटायेंगे। देश में एक कानून होगा, जहां एक निशान, एक विधान और एक प्रधान होगा। जन संघ के संस्थापक डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने लगातार धारा 370 का विरोध करते हुए अपने प्राणों की बलिदान किया। जो डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी और देश की जनता की मुराद थी इसे हमारे लोकप्रिय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पूरा करते हुए चुटकी में धारा 370 एवं 35ए को समाप्त कर दिया। इसे हम बहुत पहले ही हटाना चाहते थे लेकिन हमारे पास पूर्ण बहुमत न होने के कारण हम ऐसा नहीं कर सके थे। कांग्रेस देश को तोड़ना चाहती है और कहती है कि जम्मू कश्मीरी में धारा 370ए नही हटना चाहिए। 1964 में हमारी सरकार नही थी कांग्रेस की सरकार थी उस समय लोकसभा में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पास हुआ था कि धारा 370 हटना चाहिए लेकिन कांग्रेस ने ऐसा नही किया।
 

आज हमारे पास पूर्ण बहुमत की सरकार है, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह की इच्छाशक्ति की वजह से हम यह धारा 370 और 35ए हटाने में कामयाब हो पाये हैं। अब पूरे देश में जो कानून लागू होगा है वही कानून जम्मू-कश्मीर में भी लागू होगा। अब पूरे देश में एक संविधान, एक निशान और एक प्रधान है।
 

पाकिस्तान अलग-अलग देशों से हमारी शिकायत करता था, लेकिन आज पाकिस्तान हमारी विदेश नीति की वजह से अलग थलग पड़ गया है। कोई भी देश पाकिस्तान का साथ देने को तैयार नही है। आज दुनिया के बड़े बड़े राष्ट्र अमेरिका, जर्मनी, फ्रांस आदि भी मानते हैं कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदाय पर बहुत अत्याचार होता है और उनको प्रताड़ित और शोषित किया जाता है।
 

मैं रक्षा मंत्री होने के नाते कहना चाहता हूँ कि हमारे देश में किसी भी धर्म के 100-50 लोग ही क्यों ना हो हम उनका अपमान नही होने देंगे यह हमारे देश के संस्कार है भारत की संस्कृति में यह सबसे बड़ी शिष्टता है। हमारे यहां जांत-पात, मजहब की वजह से कभी भेद भाव नही किया गया। देश को सिर्फ इंसाफ और इंसानियत के आधार पर चलाया। हमारे नेता अटल बिहारी बाजपेयी लगातार इसी बात को दोहराते रहे हैं। हम यकीन दिलाना चाहते हैं कि भारत की ताकत लगातार बढ़ रही है, हमने किसी दूसरे देश पर आक्रमण नही किया। हमारी सैन्य शक्ति भी बढ़ रही है, आने वाले समय में दुनिया का कोई भी देश भारत की तरफ आंख उठाकर नही देख सकता। हमने लखनऊ के विकास की हमेशा चिन्ता की है और मेरा प्रयास है कि लखनऊ को एक सुंदर और सुविधा युक्त शहर का स्थान मिले।


कार्यक्रम में प्रमुख रूप से महानगर अध्यक्ष मुकेश शर्मा, उ.प्र. सरकार में मंत्री बृजेश पाठक, विधायक सुरेश श्रीवास्तव आदि ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम में मुख्य में महापौर संयुक्ता भाटिया, राम अवतार कनौजिया, रमेश तूफानी, रामकृष्ण यादव, विद्यासागर गुप्ता, रजनीश गुप्ता, गुड्डू त्रिपाठी, मीडिया प्रभारी खुर्शीद आलम आदि सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित रहे।


सम्मानित होने वालों में मुख्य रूपे से अमित गुप्ता, सुनील यादव गुड्डू, कैलाश गुप्ता, दीपक सोनकर शैलू, मनोज रस्तोगी, विनय रस्तोगी, रितेश रस्तोगी, मुकेश सिंह मोंटी, शशि गुप्ता, मान सिंह, अनुराग मिश्रा अन्नू, दीप प्रकाश सिंह, गज्जी निगम, सत्येन्द्र सिंह, यू.एन. पाण्डेय, शिवपाल सांवरिया, संतोष राय, राजीव त्रिपाठी, विजय गुप्ता।