Close X
Saturday, July 31st, 2021

लंदन की सड़कों पर असुरक्षित महिलाएं?

लंदन । ब्रिटेन की राजधानी लंदन में महिलाएं सुरक्षित नहीं है हजारों लोग प्रशासन के खिलाफ अपना गुस्सा जाहिर करने सड़कों पर उतर आए हैं, कोरोना वायरस को लेकर लगे प्रतिबंध भी उन्हें रोक नहीं पा रहे हैं। दरअसल, पिछले हफ्ते सैरा एवरार्ड नाम की महिला की हत्या कर दी गई थी। इस घटना के बाद से देश में तो आक्रोश है ही, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर महिलाओं की सुरक्षा को लेकर चर्चा तेज हो गई है। 33 साल की सैरा मार्केटिंग एग्जिक्युटिव थीं। वह लंदन के क्लफाम में 3 मार्च को एक दोस्त के घर से वापस अपने घर पैदल जा रही थीं। इस मामले में सबसे ज्यादा दिल दहलाने वाली बात यह है कि सैरा के अपहरण और हत्या का आरोपी एक पुलिस ऑफिसर है।
शनिवार को क्लफाम कॉमन में भारी भीड़ उमड़ी थी। ये लोग न सिर्फ सैरा के लिए इंसाफ की मांग कर रहे थे और उन्हें याद कर रहे थे बल्कि सड़कों को सुरक्षित बनाने की जरूरत के लिए भी लड़ रहे थे। हालांकि, स्मृति सभा पहले तो पुलिस ने आराम से होने दी, फिर धीरे-धीरे लोगों से जाने को कहा जाने लगा। इसके चलते वहां तनाव पैदा होने लगा और कई जगहों पर पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़पें भी हुईं। हालात यहां तक बिगड़े कि पुलिस महिला प्रदर्शनकारियों को भी घसीटकर ले जाते और गिरफ्तार करते दिखी। देश के कई हिस्सों में पहले मार्च निकाले जाने थे लेकिन कोरोना के चलते अब घर-घर जाकर विजिल का प्लान बनाया गया है।
पुलिस की कार्रवाई पर लेबर पार्टी की सांसद सैरा ओवेन ने ट्वीट किया, 'यह देखना दिल तोड़ने वाला और पागल करने वाला है। कोई ऐसा नहीं देख सकता और सोच सकता है कि यह पुलिस के हाथों गलत व्यवहार को छोड़कर कुछ और है। इसे बहुत अलग होना चाहिए था और यह हो सकता था।' रिपोर्ट्स के मुताबिक सैरा जिस रास्ते से जा रही थीं वहां काफी भीड़ और रोशनी रहती है और यहां से बड़ी संख्या में महिलाएं निकलती हैं। घटना के बाद से स्थानीय महिलाओं में डर और गुस्सा भी है। वे पहले से ज्यादा सतर्क हैं और परेशान भी। संसद के उच्च सदन लॉर्ड्स में मूल्सकूंब की बैरनेस जेनी जोन्स ने कहा, 'जब पुलिस महिलाओं से घर पर रहने के लिए कहती है, हम रिएक्ट नहीं करते हैं। हमें लगता है यह सामान्य है।' सैरा की हत्या के आरोपी पुलिस ऑफिसर वेन कजन्स को शनिवार को वेस्टमिंस्टर कोर्ट में पेश किया गया। चीफ मैजिस्ट्रेट पॉल गोल्डस्प्रिंग ने कजंस को ओल्ड बेली के सामने मंगलवार को पेश होने के लिए हिरासत में भेज दिया है। सैरा का शव एक बिल्डर बैग के अंदर ऐशफर्ड केंट के वुडलैंड इलाके में बुधवार को मिला था। डेंटल रिकॉर्ड के आधार पर शव की पहचान की गई थी। घटना के बाद ब्रिटेन में बवाल हो गया था और सोशल मीडिया पर महिलाओं ने किसी पुरुष के हाथों झेली हिंसा के अनुभव शेयर करना शुरू कर दिया था। प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने घटना पर दुख जताया है। PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment