Monday, May 25th, 2020

रूस के हथियारों के उपकरण भारत में बनेंगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रूस के दो दिवसीय दौरे पर हैं. पीएम मोदी और राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के बीच करीब दो घंटे की अहम बैठक हुई. इस बैठक में भारत और रूस के बीच कई समझौते पर हस्ताक्षर हुए हैं. दोनों देश के बीच सड़क और परिवहन मार्ग को लेकर समझौता. साथ ही सैन्य हथियार, उर्जा और रक्षा क्षेत्र में कई अहम समझौते हुए हैं. रूस ने कहा कि वह भारत को सबसे आधुनिका दे रहा है और भविष्य में देता रहेगा. इस्टर्न इकोनोमिक फोरम की बैठक से पहले दोनों नेताओं के बीच कई अहम समझौते हुए है.

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा, 'भारत और रूस आंतरिक मामलों में किसी तीसरे के दखल के खिलाफ है.दोनों देशों की दोस्ती का सफर तेजी से बढ़ा. रूस के हथियारों के उपकरण भारत में बनेंगे.'

व्लादिमीर पुतिन ने अपने संबोधन में कहा कि दोनों देश के नेता लगातार एक दूसरे से संपर्क में रहते हैं. दोनों देश के बीच समुद्री मार्ग विकास पर भी समझौता हुआ है. कुडनकुलम परमाणु प्लांट की तीसरी यूनिट जल्द शुरू होगी. इसकी घोषणा की गई है. पुतिन ने कहा कि भारत के साथ आर्थिक और सामरिक संबंध और मजबूत करना है. PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment