Saturday, February 29th, 2020

राहुल गांधी गैर अनुभवी और नादान राजनीतिज्ञ : बादल

प्रधानमंत्री के पद के लिए योग्य नहीं लोग मोदी को प्रधानमंत्री बनाने के लिए तत्पर  लोक विरोधी नीतियों के लिए कांग्रेस की कड़ी आलोचना शिरोमणि अकाली दल-भाजपा सरकार ने लोक कल्याण योजनाएं आरम्भ की बाजे के में तीस क रोड़ रूपये की लागत से बनने वाले पंजाब इन्स्टीच्यूट ऑफ टैकनोलोजी का नींव पत्थर रखा धर्मकोट में सात करोड़ की लागत से बनने वाले तहसील कम्पलैक्स का नींव पत्थर रखा
imagesआई एन वी सी,
पंजाब,
पंजाब के मुख्यमंत्री स. प्रकाश सिंह बादल ने कांग्रेसी नेता श्री राहुल गांधी को गैर अनुभवी और अप्रोढ़ राजनितिज्ञ करार  देते हुए कहा कि वह देश के प्रधान मंत्री के महत्वपूर्ण पद के लिए योग्य नहीं बैठते।
  आज यहां पंजाब इन्स्टीच्यूट ऑफ टैक्रोलोजी का नींव पत्थर रखने के पश्चात पत्रकारों से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि श्री राहुल गांधी केन्द्र सरकार के काम को चलाने के काबिल नहीं है और यदि उनके जैसा गैर अनुभवी व्यक्ति प्रधानमंत्री बनता है तो देश तबाही की  ओर पहुंच जायेगा। श्री गांधी को अशिक्षित चालक बताते हुए उन्होंने कहा कि यदि नेहरू-गांधी के शहजादे जैसा काई व्यक्ति चालक होगा तो बस किसी भी सूरत में मंजिल पर नहीं पहुंचेगी। स. बादल ने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय उप प्रधान का कोई प्रशासनिक अनुभव नहीं है क्योंकि वह न तो कभी मंत्री रहे हैं और न ही अन्य सार्वजनिक पद पर कार्य किया है परन्तु बदकिस्मती से कांग्रेस के चापलूस नेता श्री गांधी को प्रधान मंत्री बनाने के दिन दिहाड़ सपने देख रहे हैं। स. बादल ने कहा कि जिस व्यक्ति को शासन चलाने के बारे में कुछ पता नहीं वह व्यक्ति देश के प्रधान मंत्री के पद पर केैसे कार्य कर सकता है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि यह दीवार पर लिखा पढ़ लेना चाहिए कि गुज़रात के मुख्यमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ही देश के अगले प्रधानमंत्री होंगे क्योंकि देश के लोग इस महत्वपूर्ण पद के लिए एक योग्य और कुशल प्रशासक को चुनने के लिए बेसब्रीसे इंतजार कर रहें हैं। उन्होंने कहा कि श्री मोदी और श्री गांधी के बीच कोई भी तुलना नही की जा सकती क्योंकि श्री मोदी जहां अनुभवनी नेता है वहीं श्री गंाधी जनतक जीवन से पूरी तरह अनजान हैं। स. बादल ने कहा कि देश में श्री मोदी के हक में हवा चल रही है और केंद्र में बहुत बड़े अंतर से एन डी ए की सरकार बनेगी।
एक अन्य प्रशन का उत्तर देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि क्षेत्र में शिक्षा के प्रसार के लिए पंजाब तकनीकी विश्वविद्यालय द्वारा पंजाब इनस्टीच्यूट ऑफ तकनौलोजी की स्थापना की जा रही है जिसपर तीस करोड़ रुपये की लागत आयेगी। उन्होंने कहा कि यह इंस्टीच्यूट बनने से नवयुवकों को बेहतर तकनीकी शिक्षा उपलब्ध होगी जिससे उनको आगे बढऩे के अवसर प्राप्त होंगे। एक अन्य प्रशन का उत्तर देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार बीते रविवार को फूड एवं सिविल सप्लाई इंसपैक्टरों की भर्ती परीक्षा में उपस्थित होने वाले उम्मीदवारों को पेश आई समस्याओं की बारीकी से जांच कर रही है और इसके बारे में शीघ्र ही निर्णय लेगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि धर्मकोट विधानसभा क्षेत्र के दो दिवसीय संगतदर्शन कार्यक्रम से देश में चल रहे विकास कार्यो में और तेजी आयेगी। उन्होंने कहा कि इस संगत दर्शन कार्यक्रम दौरान क्षेत्र के सभी 150 गांवों में विकास प्रोजेक्टों को स्वीकृति दी गई है।
इसके बाद संगतदर्शन कार्यक्रम दौरान अपने संबोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार सभी शहरों में प्रारंम्भिक सुविधांए उपलब्ध करवाने के लिए पूर्ण रूप से वचनबद्ध है जिसके लिए बड़ी योजनाए आरंभ की जा चुकी हैं। उन्होंने कहा कि शिरोमणि अकाली दल-भाजपा सरकार ने समाज के कमजोर वर्गो के कल्याण के लिए आटा-दाल योजना, माई भागो विद्या योजना, भगत पूरन सिंह स्वास्थय बीमा योजना और अन्य कल्याण योजनाओं की शुरूआत की है इसी प्रकार स. बादल ने कहा कि शीघ्र ही आटा-दाल योजना के लाभपात्रियों क ी गिनती दुगुनी की जा रही है और राज्य सरकार द्वारा लाभपात्रियो को एक रूपए किलो आटा दिया जाएगा।
मुख्यमंत्री ने कांग्रेस पर तीखी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा कि शिरोमणि अकाली दल भाजपा सरकार ने राज्य में अनेकों जन कल्याण योजनाएं आरंभ की हैं, जबकि दूसरी तरफ यू पी ए की अगुवाई वाली कांग्रेस सरकार की लोक विरोधी नीतियों ने आम लोगों की कमर तोड़ दी है। उन्होंने कहा कि राज्य के किसानों ने रिकार्ड तोड़ अनाज पैदा करके देश को आत्म-निर्भर बनाया है, परन्तु केन्द्र सरकार किसान विरोधी नीतियां अपना कर राज्य के किसानों को आर्थिक पक्ष से कमज़ोर करने पर तुली हुई है। उन्होंने कहा सच तो यह है यदि शिअद भाजपा सरकार राज्य के किसानों को 6000 करोड़ रूपए वार्षिक बिजली नि:शुल्क देक र उनका साथ ना देती तो राज्य के किसान बुृरी तरह तबाह हो जाते। इससे पहले स.बादल ने 7.19 करोड़ रूपए की लागत से बनने वाले तहसील कम्प्लैक्स का नींव पत्थर भी रखा।
इस अवसर पर अन्य के अतिरिक्त जत्थेदार तोता सिंह भूतपूर्व मंत्री व विधायक, लोक सभा एम पी श्रीमती परमजीत कौर गुलशन, भूतपूर्व मुख्य संसदीय सचिव श्री शीतल सिंह, भूतपूर्व एम पी केवल सिंह, चेयरपर्सन जिला परिषद बीबी अमरजीत कौर साहोके, यूथ अकाली नेता बलजिंदर सिंह बराड़, विशेष प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री श्री गुरकीरत कृपाल सिंह, डिप्टी कमिश्रर श्री अरश दीप सिंह थिंद, एस एस पी श्री कमलजीत सिंह ढिल्लो और पंजाब तकनीकी विश्वविद्यालय के डीन श्री ए पी सिंह उपस्थित थे।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment