पुलिस महानिदेशक श्रीनिवास वशिष्ठआई एन वी सी ,
चंडीगढ़ ,
सतलोक आश्रम में बंधक लोगों की जान माल की सुरक्षा करेगी पुलिस  और रामपाल की गिरफ्तारी तक जारी रहेगा ऑपरेशन।
हरियाणा सरकार हिसार जिले के बरवाला स्थित सतलोक आश्रम में बंधक अनुयायियों के जान-माल की सुरक्षा के लिए कटिबद्ध है और  आश्रम से बाहर आने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है।ये कहना है हरियाणा पुलिस के  वशिष्ठ का।वे मंगलवार को चंडीगढ़ में पत्रकारों से बात कर रहे थे।वहीँ सूचना, जनसम्पर्क एवं संस्कृतिक विभाग के प्रधान सचिव  संजीव कौशल ने कहा की जिन मिडिया  उपकरण नष्ट  बदलवा।

बरवाला सतलोक  आश्रम में चल रही कार्यवाही पर मीडिया को जानकारी देने के लिए गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव  पी.के.महापात्रा , पुलिस महानिदेशक  श्रीनिवास वशिष्ठ और  सूचना, जनसम्पर्क एवं संस्कृतिक विभाग के प्रधान सचिव  संजीव कौशल ने मंगलवार को चंडीगढ़ में  एक संयुक्त प्रैसवार्ता की।  जिस में पुलिस महानिदेशक ने बताया की  सरकार सतलोक आश्रम में बंधक अनुयायियों के जान-माल की सुरक्षा के लिए कटिबद्ध है और  आश्रम से बाहर आने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है। हरियाणा पुलिस ने संत रामपाल द्वारा महिलाओं व छोटे बच्चों का सहारा लेकर बनाई गई मानव श्रंखला हटाने में पुलिस ने सतर्कतापूर्वक कार्यवाही की है और आश्रम के अन्दर से फायरिंग होने के बाद भी बंधक लोगों को उनके आग्रह पर पुलिस ने धैर्य व सावधानीपूर्वक कार्यवाही करते हुए लगभग 2,000 लोगों को आश्रम से बसों में सुरक्षित स्थानों पर भेजा है तथा पुलिस आप्रेशन संत रामपाल को गिरफ्तार किये जाने तक जारी रहेगा।

पुलिस महानिदेशक श्री श्रीनिवास वशिष्ठ ने बताया कि आश्रम के अन्दर से पुलिस को फोन पर सूचित किया गया कि उन्हें जबरन बंधक बनाया गया है और उन्हें मदद की आवश्यकता है। उन्होंने बताया कि अब तक 105 पुलिस कर्मियों को चोटें आई हैं, जिनमें से 9 को गम्भीर चोटें, 2 को गोलियां तथा एक एसएचओ को गर्दन पर गोली लगी है। इसके अलावा दो मीडिया कर्मी भी अग्रोहा मेडिकल कॉलेज व हिसार के अस्पताल में भर्ती हैं। आश्रम के 85 अनुयायियों को भी चोटें आई हैं। सरकार द्वारा अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, लॉ एंड आर्डर, श्री मोहम्मद अकील को मीडिया कर्मियों को हाल-चाल पूछने विशेष रूप से भेजा गया है।

वहीँ सूचना, जनसम्पर्क एवं संस्कृतिक विभाग के प्रधान सचिव  संजीव कौशल ने  कहा की ऑपरेशन के बाद  मीडिया कर्मियों के नुकसान की जांच की जाएगी और दोषियों के विरूद्ध आवश्यक कार्यवाही की जाएगी।  संजीव कौशल ने बताया कि जिन मीडिया कर्मियों के उपकरण नष्ट हुए हैं उन्हें उपकरण उपलब्ध करवाएं जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here