Saturday, May 30th, 2020

राजेश पायलट के पैतृक गांव में श्रद्घांजलि समारोह, बताया किसानों का हितैषी

जयश्री राठौड़,,
आई.एन.वी.सी,,
हरियाणा ,,
हरियाणा  के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डïा ने लोगों से जाति एवं धर्म की संकीर्ण भावना से ऊपर उठकर देश एवं प्रदेश के विकास में प्रभावी योगदान देने के लिए एकजुट होकर काम करने का आह्वान किया। हुड्डïा राजस्थान के जिला दौसा के गांव जरोटा भंडाना में पूर्व केन्द्रीय मंत्री राजेश पायलट की 12वीं पुण्य तिथि के अवसर पर आयोजित एक जनसभा में बोल रहे थे। पायलट को अपनी भावभीनी श्रद्घांजलि अर्पित करते हुए कहा कि पायलट एक महान नेता थे, जिन्होंने किसानों, गरीबों तथा समाज के वंचित वर्गों से स बधित लोगों की बेहतरी के लिए बढ़-चढ़ कर कार्य किया। उन्होंने कहा कि अपने छोटे से जीवन में श्री पायलट ने किसानों के दिलों में एक महत्वपूर्ण स्थान बना लिया था। किसान एवं जवान को समाज की आधारशिला बताते हुए हुड्डïा ने कहा कि श्री पायलट एक किसान ही नहीं थे, बल्कि उन्होंने एक सिपाही के रूप में देश की सेवा भी की। पायलट के साथ गुजारे समय का जिक्र करते हुए श्री हुड्डïा ने कहा कि वे उनके जिगरी दोस्त रहे हैं तथा सदा कृषक समुदाय के आर्थिक स्तर को ऊंचा उठाने से स बन्धित मुद्दों पर बात करते थे। लोगों से एक प्रश्न करते हुए हुड्डïा ने पूछा कि समाज में ऐसे झगड़े क्यों होते हैं, जिनसे लोगों में भेदभाव उत्पन्न हो जाता है। किसानों के बीच कोई झगड़ा नहीं होना चाहिए, क्योंकि किसान किसी एक विशेष जाति या वर्ग से स बन्धित नहीं होते हैं। उन्होंने कहा कि किसान वह है, जो कड़ी मेहनत से अपनी आजीविका कमाता है। हुड्डïा ने कहा कि केन्द्रीय सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री सचिन पायलट अपने पिता के पदचिह्नïों का अनुसरण करते हुए कृषक समुदाय के कल्याण के लिए कार्य कर रहे हैं।
        हुड्डïा ने जिला दौसा के बांदीकुंई में निर्मित राजेश पायलट भवन में निर्माणाधीन होस्टल के निर्माण के लिए 31 लाख रुपये का एैच्छिक अनुदान देने की घोषणा भी की। उन्होंने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, केन्द्रीय सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री सचिन पायलट, केन्द्रीय समाज कल्याण मंत्री मुकुल वासनिक, पूर्व सांसद श्रीमती रमा पायलट तथा कांग्रेस पार्टी के अनेक नेताओं के साथ राजेश पायलट की प्रतिमा का अनावरण भी किया।
      इस अवसर पर राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने कहा कि पूर्व केन्द्रीय मंत्री स्वर्गीय श्री राजेश पायलट को सदा किसानों के हितैषी के रूप में याद किया जाएगा। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि वे श्री पायलट के सपनों को साकार करने के लिए कार्य करें और यही उन्हें सच्ची श्रद्घांजलि होगी।  केन्द्रीय सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री सचिन पायलट ने कहा कि सच्चे नेता को उसके पद से नहीं, बल्कि लोगों के हित में उस द्वारा किए गये कार्यों के लिए याद किया जाता है। उन्होंने कहा कि उन्होंने भी संसद में यह मुद्दा उठाया है कि कृषि को  भी उद्योग के बराबर का दर्जा दिया जाना चाहिए।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment