आईएनवीसी
नई दिल्ली.
पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री मुरली देवरा ने कल राजीव गांधी ग्रामीण एलपीजी वितरक स्कीम का शुभारंभ किया । इस अवसर पर पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस राज्य मंत्री श्री जितिन प्रसाद भी मौजूद थे । इस स्कीम का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में सुविधा बढाने तथा दूरदराज के क्षेत्रों में गैस सुलभ कराने के साथ-साथ निम्न क्षमता वाले क्षेत्रों में छोटे आकार की एलपीजी वितरण एजेंसियां स्थापित करना है ।

 इस अवसर पर देवरा ने बताया कि यह स्कीम शुरू में 8 राज्यों के 1200 से अधिक ऐसे स्थानों में प्रारंभ की जा रही है जहां एलपीजी बहुत कम उपलब्ध है । उन्होंने कहा कि यह स्कीम समग्र ग्रामीण आबादी को  आर्थिक रूप से समृध्द बनाने के वास्ते रोजगार के नए अवसर भी उपलब्ध कराएगी ।

 पंचायती राज प्रणाली की संस्था के जरिए गांवों को आत्मनिर्भर बनाने पर जोर देने की स्वर्गीय राजीव गांधी की बात को स्मरण करते हुए देवरा ने कहा कि वे चाहते हैं कि अपनी जरूरतों को पूरा करने में गांव आत्मनिर्भर बनें ताकि हमारी ग्रामीण आबादी को बड़े कस्बों और शहरों की ओर रोजगार के लिए पलायन न करना पड़े । उन्होंने कहा कि हमारे महान नेता की परिकल्पना को पूरा करने की दिशा में यह स्कीम एक और कदम है । देवरा ने कहा कि एलपीजी अब देश के ग्रामीण और अर्ध्दशहरी इलाकों तक पहुंच चुकी है । एलपीजी जाल का 83 प्रतिशत भाग शहरी क्षेत्र तथा सिर्फ 17 प्रतिशत ग्रामीण क्षेत्रों में है ।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here