सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने श्री गुरु रविदास मंदिर और समाधि को ढहाने से बिरादरी में पैदा हुए तनाव को सुलझाने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी से निजी दखल देने की मांग की है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर दिल्ली के तुगलकाबाद स्थित मंदिर को गिराया गया है।

गुरु रविदास जयंती समारोह समिति ने राज्य स्तरीय प्रदर्शनों के बाद 13 अगस्त को देश बंद और 15 अगस्त को काले दिन के तौर पर मनाने का एलान किया है। इनका नोटिस लेते हुए सीएम ने कहा कि वह सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहते। पर निजी तौर पर ऐतिहासिक महत्व वाले किसी भी स्मारक को तोड़ने के हक में नहीं हैं, जिससे किसी भाईचारे की भावनाओं को ठेस पहुंचती हो। सीएम ने भाईचारे से प्रदर्शन बंद करने की अपील की।

क्योंकि उनकी सरकार केंद्र के साथ इस मसले का हल निकालने में भाईचारे को पूरा सहयोग देने को तैयार है। उन्होंने केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी से बात कर यह जगह दोबारा अलॉट करने की मांग की। ताकि भाईचारे द्वारा सरोवर सहित मंदिर का निर्माण कराया जा सके। सीएम ने गिराए ढांचे का दोबारा निर्माण करने को भाईचारे को कानूनी और वित्तीय सहायता देने का भरोसा दिया। इस मामले में तालमेल को पांच मेंबरी कमेटी बनाने का एलान किया। जिसमें चौधरी संतोख, चरनजीत चन्नी, राजकुमार चब्बेवाल, अरुणा चौधरी और सुशील रिंकू शामिल होंगे। सीएम ने कहा कि मसले की संवेदनशीलता को देखते हुए यह जरूरी है कि केंद्र सरकार इस स्थान के मूल ढांचे और रूपरेखा को बहाल करने को सभी कदम उठाए। PLC
 



 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here