Close X
Wednesday, September 23rd, 2020

रविदास नगर ज़िले का नाम बदलने का फैसला राजनीतिक द्वेष से ग्रस्त और जातिवादी हैं : मायावती

mayawati,mayavati ,invc news , मायावतीआई एन वी सी न्यूज़ लखनऊ,

बसपा  राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने ‘‘सन्त रविदास नगर‘‘ ज़िले का नाम बदलकर भदोही करने के सपा सरकार के फैसले की तीखी आलोचना करते हुये कहा कि पूर्णतः राजनीतिक द्वेष व घोर जातिवादी भावना से लिया गया उत्तर प्रदेश सपा सरकार का यह एक और ग़लत फैसला है।उल्लेखनीय है कि अपने दूसरे शासनकाल के दौरान  मायावती जी ने दिनांक 4 दिसम्बर सन् 1997 को ‘‘सन्त रविदास नगर‘‘ के नाम से ज़िला बनाया था। उसी दौरान वाराणसी में सन्त रविदास पार्क व वाराणसी में ही उनकी प्रतिमा के साथ-साथ फै़ज़ाबाद में सन्त रविदास राजकीय महाविद्यालय आदि की स्थापना की गयी थी। सन्त रविदास सामाजिक परिवर्तन के सन्तों की परम्परा के सन्तगुरू थे और उनका छोटा सा अत्यन्त ही प्रेरणादायी वाक्य ‘‘मन चंगा तो कठौती में गंगा‘‘ गागर में सागर लिये हुये आज भी लोगों में काफी ज़्यादा प्रिय व प्रचलित हैं। उन्होंने अपनी वाणी व कर्म से सामाजिक परिवर्तन व मानवता के विकास के लिये समाज में जो अलख जगाया था उसे कभी भी भुलाया नहीं जा सकता, परन्तु उत्तर प्रदेश की समाजवादी सरकार वैसे महान सन्त गुरूओं के प्रति भी द्वेष व जातिवादी भावना से काम रही है, जिसका दुष्परिणाम आने वाले समय में उसे ज़रूर ही भुगतना पड़ेगा। बी.एस.पी. सपा सरकार की इस प्रकार की घृणित व जातिवादी कृत्य की घोर निन्दा करती है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment