Wednesday, June 3rd, 2020

यूपी करे सवाल, क्या किया तीन साल

लखनऊ । उप्र की योगी आदित्यनाथ सरकार का तीन साल का कार्यकाल पूर्ण होने पर प्रदेष कांग्रेस ने उस पर आरोपों की झड़ी लगा दी है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि भाजपा सरकार के आज तीन साल पूरे होने पर एक दिन पूर्व ही कल मुख्यमंत्री द्वारा की गयी अपनी आत्म प्रशंसा पर कांग्रेस पार्टी जो लगातार जन मुद्दों पर सड़क से सदन तक संघर्ष करती रही है। जनहित की लड़ाई लड़ती रही। अपना आरोप पत्र जनता के समक्ष आपके द्वारा रखना चाहती है। पार्टी ने इस मौके पर एक बुकलेट और एक वेबसाइट भी जारी की जिसमें योगी सरकार की विफलताओं का ब्यौरा दिया गया है। साथ ही पार्टी ने नारा दिया है कि ‘यूपी करे सवाल, क्या किया तीन साल’।
प्रदेष कांग्रेस अध्यक्ष ने गुरुवार को यहां पत्रकार वार्ता में कहा कि सरकार के आत्म प्रसंशा के तीन साल में जनता रही बेजार, रोज हो रहे हत्या और बलात्कार, बदहाल किसान, बेरोजगार और युवा परेशान, गड्ढायुक्त सड़कंे, असुरक्षित समाज, व्यापारियों का बुरा हाल, सिसकतीं कन्याएं, बीमार अस्पताल-तो कैसे कहें कि उपलब्धियों भरा रहा यह तीन साल? उन्होंने कहा कि जीरो टालरेन्श की बात की जाती है पर बड़ा-बड़ा भ्रष्टाचार हो रहा है। निवेश का बुरा हाल है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार पिछले तीन वर्षों में समाज के किसी भी वर्ग की आशा और आकांक्षा को पूरा करने में पूरी तरह विफल साबित हुई है। जनता, जिसमें किसान, मजदूर, युवा, महिला, दलित, पिछड़ा, आदिवासी, अल्पसंख्यक आदि सारा समाज आता है जो खुद को निराश और हताश महसूस कर रहे हैं।
वहीं कांग्रेस विधानमंडल दल की नेता श्रीमती आराधना मिश्रा ‘मोना’ ने महिला सुरक्षा पर जोर देते हुए कहा कि सबसे ज्यादा असुरक्षित वातावरण इस सरकार में बहन, बेटियों के साथ रहा, जहां उन्नाव में तीन-तीन बलात्कार की क्रूरतम घटनाएं हुईं, वहीं शाहजहांपुर में इस घटना के अंजाम के आरोपी भाजपा के पूर्व सांसद एवं पूर्व गृह राज्यमंत्री रहे। भारतीय जनता पार्टी पीड़ित बच्चियों के साथ न्याय करने के बजाए लगातार अपने उन्नाव के पूर्व विधायक एवं शाहजहांपुर के पूर्व सांसद को बचाने में लगी रही। ऐसे में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का नारा बेईमानी साबित होता है। सरकार के तमाम दांव एवं वादों के बावजूद पिछले तीन वर्षों में किसी भी स्तर पर महिलाएं और बहन बेटियां सुरक्षित नहीं हैं। PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment