kiran maheshwari minister invc newsjaipurआई एन वी सी,
जयपुर,
राजसमंद जिला मुख्यालय पर सेठ रंगलाल कोठारी राजकीय महाविद्यालय में शुक्रवार को आयोजित छात्र संघ उद्घाटन समारोह की मुख्य अतिथि जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी एवं भूजल मंत्री श्रीमती किरण माहेश्वरी ने कहा कि युवा राष्ट्र की शक्ति हंै और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विजन के अनुसार युवाओं में कौशल विकास को बढ़ावा दिया जाएगा इसी के अन्तर्गत अगले माह कौशल विकास का प्रशिक्षण कार्यक्रम संचालित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जिला मुख्यालय में एक भव्य ऑडिटोरयम बनवाने का उनका सपना है और अगर महाविद्यालय प्रशासन की ओर से चार-पांच बीघा $जमीन उपलब्ध करवाई जाए तो यहां तीन-चार करोड़ की लागत से वातानुकूलित भव्य ऑडिटोरियम का निर्माण करवाया जाएगा। उन्होने कहा कि जिले के विकास में किसी तरह की कमी नहीं आने दी जाएगी एवं जिले में पेयजल की समस्त सुविधाएं विकसित की जाएंगी।
श्रीमती माहेश्वरी ने युवा विद्यार्थियों को मुल्य आधारित शिक्षा देने के लिए अध्यापकों का आह्वान किया ताकि ये युवा कच्चे पुलों के जैसे ना ढहें और अपनी उर्जा मुल्यों के साथ विकास में लगा सकें। उन्होंने महाविद्यालय में कला वर्ग में पीजी कोर्स जल्द ही शुरू करवाने का आश्वासन दिया तथा कॉलेज में खेल मैदान के साथ पेयजल की सुविधा विकसित करने का भी अधिकारियों को त्वरित प्रभाव से निर्देश दिया।
श्रीमती माहेश्वरी ने कॉलेज प्राचार्या श्रीमती सुशीला रील की मांग के अनुसार यूजीसी की ओर से महाविद्यालय के विकास के लिए स्वीकृत 40 लाख रुपए के बजट के बकाया 20 लाख रुपए के बजट को रिलीज करवाने के लिए संबंधित अधिकारियों को युसी जारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने इस अवसर पर जिला मुख्यालय में एक भव्य ऑडिटोरयम बनवाने की अपने विजन को बतातें हुए कहा कि अगर महाविद्यालय प्रशासन की ओर से चार-पांच बीघा $जमीन उपलब्ध करवाई जाए तो यहां तीन-चार करोड़ की लागत से वातानुकूलित भव्य ऑडिटोरियम का निर्माण करवाया जाएगा। उन्होंने महाविद्यालय में रिक्त पदों को भी त्वरित प्रभाव से भरने के लिए भी आश्वासन दिया।
अति विशिष्ठ अतिथि सांसद श्री हरिओम सिंह राठौड़ ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि देश के 35 करोड़ युवा महत्वपूर्ण संसाधन हैं उनके सर्वांगिण विकास एवं सहभागिता से ही राष्ट्र का विकास संभव हो सकेगा।
मुख्य वक्ता श्री आनन्द पालीवाल ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि युवा छोटे-छोटे कार्यों से राष्ट्र के विकास में बडी भूमिका निभा सकते है। उन्होंने कहा कि अगर हमस ब अपनी-अपनी छोटी-छोटी जिम्मेदारियों को पूरा करें तो भारत फिर से विश्व गुरू बन सकता है।
समारोह के प्रारंभ में मां सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्ज्वलन कर कार्यक्रम की शुरूआत की। प्राचार्य एवं छात्रसंघ पदाधिकारियों द्वारा अतिथियों का माल्यार्पण कर स्वागत किया गया। सर्वप्रथम छात्रसंघ परामर्श दाता श्रीमती निर्मला मीणा ने स्वागत उद्बोधन द्वारा सभी का स्वागत किया। तत्पश्चात् प्राचार्य एवं अध्यक्ष श्रीमती सुशीला रील ने स्वागत उद्बोधन में ‘‘सफर की शुरूआत जो करते है वे ही मंजिल को प्राप्त करते है‘‘ हमारे जनप्रतिनिधियों ने इसी प्रकार की मिसाल कायम की है। कार्यक्रम का आभार उपाचार्य श्रीमती मधुलिका बाली ने किया। कार्यक्रम का संंचालन श्रीमती शकुन्तला शर्मा ने किया।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here