Dr. Raman Singh INVC NEWSआई एन वी सी न्यूज़
रायपुर,
मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की अध्यक्षता में आज यहां मंत्रालय (महानदी भवन) में युवा दृष्टि अभियान के तहत प्रदेश की युवा नीति बनाने के लिए गठित उच्च स्तरीय समन्वय समिति की प्रथम बैठक आयोजित की गई। समिति का गठन राज्य योजना आयोग द्वारा किया गया है। युवा दृष्टि अभियान का ध्येय वाक्य ’हुनर से शिखर की ओर’ है। युवा नीति तैयार करने के लिए खेल एवं युवा कल्याण विभाग को नोडल विभाग बनाया गया है।
मुख्यमंत्री ने बैठक में कहा कि युवाओं की भागीदारी से ही युवा नीति का निर्माण किया जाएगा। इसमें समाज के सभी वर्गों की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। बैठक में अधिकारियों ने बताया कि राज्य सरकार की संस्था ’चिप्स’ द्वारा युवा दृष्टि अभियान और युवा नीति के लिए एक वेबपोर्टल बनाया जा रहा है, जिसमें समाज के सभी वर्गों के लोग और युवा अपने सुझाव दे सकेंगे। यह अभी हिन्दी और अंग्रेजी भाषा में बनाया जा रहा है। डॉ. सिंह ने कहा कि प्रस्तावित वेब पोर्टल में छत्तीसगढ़ी भाषा के साथ-साथ बस्तर अंचल में प्रचलित गोंड़ी, भतरी और हल्बी बोलियों में भी सुझाव भेजने की सुविधा दी जाए। उन्होंने चिप्स के अधिकारियों को कम्प्यूटर में गोंड़ी बोली के फोन्ट विकसित करने की संभावनाओं पर काम करने के भी निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने प्रस्तावित वेबपोर्टल में पड़ोसी राज्यों की भाषाओं तेलगु, मराठी और ओडि़या में भी सुझाव देने का विकल्प रखने के निर्देश दिए, ताकि इससे युवा नीति के लिए सीमावर्ती क्षेत्रों के युवाओं के भी सुझाव और विचार मिल सकें।
बैठक में योजना, आर्थिक एवं सांख्यिकी मंत्री श्री पुन्नू लाल मोहिले, स्कूल शिक्षा और आदिम जाति विकास मंत्री श्री केदार कश्यप, मुख्यमंत्री के सलाहकार श्री शिवराज सिंह, मुख्य सचिव श्री विवेक ढांड और संबंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी तथा समिति के सदस्य उपस्थित थे।
डॉ. रमन सिंह ने बैठक में नई युवा नीति बनाने के लिए राज्य योजना आयोग द्वारा संचालित कार्यों की समीक्षा की। आयोग के उपाध्यक्ष श्री सुनिल कुमार ने बैठक में बताया कि युवा नीति के निर्माण में युवाओं के साथ ही प्रदेश के नागरिक समाज एवं गैर सरकारी संगठनों के सुझावों को भी अमल में लाया जाएगा। उन्होंने बताया कि छत्तीसगढ़ के युवाओं की आकांक्षाओं, अपेक्षाओं और आवश्यकताओं के अनुरूप नई नीति बनाई जाएगी। इसके लिए इसमें युवाओं की सहभागिता सुनिश्चित की जा रही है। बैठक में युवा नीति के निर्माण और इसमें स्कूलों, महाविद्यालयों एवं विश्वविद्यालयों में पढ़ रहे युवाओं के साथ-साथ स्वरोजगार, कृषि एवं अन्य क्षेत्रों में कार्यरत ग्रामीण और शहरी युवाओं की सहभागिता सुनिश्चित करने के लिए विभिन्न कार्ययोजनाओं पर विचार-विमर्श किया गया। बैठक में नई युवा नीति तैयार करने की दिशा में राज्य योजना आयोग द्वारा संचालित की जाने वाली भावी गतिविधियों का अनुमोदन भी किया गया।
बैठक में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री एम.के. राऊत, तकनीकी शिक्षा एवं रोजगार विभाग की प्रमुख सचिव श्रीमती रेणु पिल्लै, खेल एवं युवा कल्याण विभाग के सचिव श्री दिनेश श्रीवास्तव, मुख्यमंत्री के सचिव श्री सुबोध सिंह, योजना, आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग के सचिव श्री देबाशीष दास, मुख्यमंत्री के संयुक्त सचिव श्री रजत कुमार एवं राज्य योजना आयोग के सदस्य श्री पी.पी. सोती मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here