इस्लामाबाद । जम्मू-कश्मीर पर भारत के फैसले से बौखलाए पाकिस्तान की गीदड़-भभकियां खत्म नहीं हो रही हैं। बुधवार को अपनी आजादी का जश्न मना रहा पाकिस्तान भारत के खिलाफ लगातार उकसाने वाले बयान दे रहा है। पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने अब जेहाद की धमकी दी है। उन्होंने कहा हम जंग नहीं चाहते हैं, लेकिन अगर भारत युद्ध करता है, तो उनके पास जेहाद से इसका जवाब देने के अलावा कोई रास्ता नहीं होगा। पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस पर अपने संबोधन में उन्होंने कहा आज पूरी दुनिया देख रही है कि पाकिस्तान कश्मीर के लोगों के साथ खड़ा है। उनका हरदम साथ देने को तैयार है। पाकिस्तानी राष्ट्रपति ने कहा कि हम कश्मीरियों की मदद करना बंद नहीं करेंगे। उन्होंने कहा पाकिस्तान इस मसले को लेकर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) तक जाएगा। उन्होंने आरोप लगाया कि भारत ने जम्मू-कश्मीर पर इस तरह का फैसला लेकर संयुक्त राष्ट्र के नियमों का उल्लंघन किया है। उन्होंने भारत पर शिमला समझौता तोड़ने का भी आरोप लगाया। 


उल्लेखनीय है कि यह वही पाकिस्तान है, जिसने न शिमला समझौते को कभी स्वीकार किया और न अन्य समझौतों को महत्व दिया। जब से कश्मीर से धारा 370 खत्म हुई है, तब से वह बेहद बौखला गया है। इस मुद्दे पर अंतर्राष्ट्रीय सहयोग जुटाने की भी कोशिश कर रहा है, हालांकि किसी भी देश ने खुल कर उसका समर्थन नहीं किया है। PLC