dkdआई एन वी सी न्यूज़
देहरादून,
रविवार को मुख्यमंत्री हरीश रावत व उनकी धर्मपत्नी श्रीमती रेणुका रावत प्रातः लगभग 11 बजे हैलीकाप्टर से केदारनाथ धाम पहॅुचे। हैलीपैड पर तीर्थ पुरोहितों एवं व्यापार संघ के लोगों ने मुख्यमंत्री का भव्य स्वागत किया। इसके बाद मुख्यमंत्री एवं उनकी पत्नी ने बाबा केदारनाथ के दर्शन किये और मंदिर में पूजा अर्चना कर राज्य की सुख समृद्धि एवं कल्याण के लिये प्रार्थना की। मुख्यमंत्री के साथ पूजा अर्चना में विधान सभा अध्यक्ष गोविन्द सिंह कुंजवाल, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय भी मौजूद थे।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि उन्होंने बाबा केदारनाथ से राज्य की सुख समृद्धि व कल्याण के लिये प्रार्थना की है। पूजा अर्चना के बाद उन्होंने यात्रा व्यवस्थाओं का जायजा भी लिया। साथ ही जिलाधिकारी, रूद्रप्रयाग को यात्रा व्यवस्थाओं के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश भी दिये। उन्होंने यात्रियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए जिलाधिकारी को केदारपुरी में एक हजार यात्रियों के ठहरने के लिये अतिरिक्त व्यवस्था शीघ्र करने के निर्देश भी दिये। दर्शन के लिये लाइन में लगे श्रद्धालुओ से भी मुख्यमंत्री मिले और उनसे यात्रा व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि यात्रा व्यवस्थाओं में रह गई कमियों को शीघ्र दूर किया जायेगा। इस दौरान उन्होंने गढ़वाल मण्डल विकास निगम की कैटीन में यात्रियों के साथ खाना भी खाया।
इस अवसर पर श्री केदारसभा व समस्त तीर्थ पुरोहित समाज द्वारा मुख्यममंत्री को 9 सूत्रीय ज्ञापन भी दिया गया। जिसमें मंदिर की सुरक्षा हेतु मजबूत सुरक्षा दीवार निर्माण जल्द से जल्द पूरा करने, केदारपुरी की सफाई और पुरी के सम्पर्क मार्गो को आवाजाही हेतु खोल दिये जाने सहित आपदा से प्रभावित छूटे हुए तीर्थ पुरोहितों को अहेतुक धनराशि प्रदान करने की मांग की गई। जिस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि मांगों पर विचार किया जायेगा। उन्होंने कहा कि मैं चाहता हॅू कि केदारपुरी भव्य पुरी के रूप में अस्तित्व में आए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि उनकी प्राथमिकता पहले चारधाम यात्रा व्यवस्था है।
इस अवसर पर कांग्रेस जिलाध्यक्ष प्रदीप थपलियाल, सूरज नेगी, जिलाधिकारी डॉ0 राघव लंगर, पुलिस अधीक्षक पीएन मीणा, केदारनाथ मंदिर समिति के कार्याधिकारी अनिल शर्मा सहित गढ़वाल मण्डल विकास निगम, निम, पुलिस आदि विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here