Close X
Tuesday, November 24th, 2020

यहां हैं बरसात अपने पूरे शबाब पर

जयपुर | राजधानी जयपुर में बरसात अपने पूरे शबाब पर है। लगभग पूरे शहर में कल शाम से लेकर अभी तक कहीं लगातार तो कहीं रुक-रूककर बरसात जारी है। कई घंटों से हो रही तेज़ बरसात ने जनजीवन को अस्त-व्यस्त कर दिया है। सड़कें पानी में डूब गई हैं, और नदी-नाले उफन रहे हैं। निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को जलभराव से मुश्किल हालात का सामना करना पड़ रहा है। इस बीच जिला प्रशासन और आपदा प्रबंधन की कई टीमें काबू पाने में जुटी हुई हैं। दरअसल, गुरुवार शाम से ही यहाँ बरसात का सिलसिला शुरू हो गया था। वहीं आज सुबह भी जब शहरवासियों की आंख खुली तब भी बरसात थमी नहीं थी। मौसम में बदलाव के साथ ही काली घटाएं देखने को मिली, मेघ भी राजधानी पर पूरी तरह से मेहरबान हुए। लगातार हो रही बरसात से राजधानी के तापमान में भी आज सुबह लगभग छह डिग्री की गिरावट देखने को मिली। तापमान 26.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं कल यह 32.2 रहा। तापमान में 5.6 डिग्री की गिरावट दर्ज की गई। जेएलएन मार्ग, जगतपुरा, दिल्ली रोड, टोंक रोड, सीकर रोड, सांगानेर, आगरा रोड पर जलभराव होने से आमजन को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। एक बार फिर राजधानी में पानी की निकासी के दावे खोखले साबित होते हुए नजर आए।

भारी बारिश की चेतावनी जारी
प्रदेश में आगामी पांच दिन तक पूर्वी और पश्चिम राजस्थान में भारी और अतिभारी बारिश की मौसम विभाग ने चेतावनी जारी की है। 13 से 17 अगस्त तक राजधानी जयपुर के अलावा अजमेर, अलवर, बांसवाड़ा, बारां, भरतपुर, भीलवाड़ा, बूंदी, चित्तौडग़ढ़, दौसा, धौलपुर, डूंगरपुर, झालावाड़, झुंझुनूं, करौली, कोटा, प्रतापगढ़, राजसमंद, सवाईमाधोपुर, सीकर , सिरोही, टोंक , उदयपुर, चूरू , नागौर, पाली और जालौर में भारी से अति भारी बारिश हो सकती है।

इसलिए आ रही बारिश
मौसम विभाग जयपुर केंद्र के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि मानसून अक्ष रेखा के करीब आने के साथ ही प्रदेश में बन रहे सर्कुलेशन और लो प्रेशर एरिया के चलते अगले दो सप्ताह तक प्रदेश में अच्छी बारिश होने की संभावना जताई है। दो से तीन दिनों के दौरान अरब सागर से मजबूत दक्षिण पश्चिमी हवाओं के आने की संभावना रहेगी। कई मौसमी परिवर्तन के चलते बहुत अधिक बारिश होने का आंकलन मौसम विभाग ने किया है।

एक जून से अब तक प्रदेश में 18 प्रतिशत बारिश कम
प्रदेश में एक जून से अब तक 18 प्रतिशत बारिश कम हुई है। मौसम विभाग के अनुसार जून से 13 अगस्त तक प्रदेश में 272.1 मिमी बारिश होनी थी लेकिन 223.6 मिमी बारिश ही हुई। इसके अलावा सात से 13 अगस्त के बीच प्रदेश में 36 प्रतिशत अधिक बारिश हुई। इस दौरान 34.6 मिमी बारिश के मुकाबले 46.9 मिमी बारिश हुई। जयपुर में 311.9 बारिश हुई, जो सामान्य से सात फीसदी कम हुई है। लेकिन आगामी दिनों में प्रदेश में अगस्त माह में अच्छी बारिश होने का अनुमान है।  पीएलसी।plc.

 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment