Tuesday, March 31st, 2020

मोमबत्ती की रौशनी में आँख का इलाज करना योगी सरकार के लिए शर्मनाक

आई एन वी सी न्यूज़
लखनऊ,
उ0प्र0 में स्वास्थ्य सेवाएं पूरी तरह चरमरा गयी हैं। प्रदेश सरकार ने बीआरडी मेडिकल कालेज गोरखपुर में हुई सैंकड़ों बच्चों की दुःखद मौत से सबक नहीं लिया जिसका नतीजा यह हुआ कि फर्रूखाबाद, वाराणसी सहित विभिन्न जनपदों में समुचित इलाज न मिलने से असमय बच्चों को अपनी जान गंवानी पड़ी है। ताजा मामला जनपद उन्नाव का है जहां टार्च की रोशनी में आंखों का आपरेशन किया गया है। यह योगी सरकार के लिए बेहद शर्मनाक है।
प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता अशोक सिंह ने आज जारी बयान में कहा कि एक तरफ जहां प्रदेश की योगी सरकार स्वास्थ्य सेवाओं के बेहतरी का दावा करती है वहीं उन्नाव के नवाबगंज सीएचसी में टार्च की रोशनी में 32 मरीजों के आंख के आपरेशन किये जा रहे हैं। इन मरीजों की आंखों के साथ जिस तरह खिलवाड़ किया गया है वह प्रदेश सरकार की बदहाल स्वास्थ्य व्यवस्था एवं सरकार की आम जनता के प्रति संवेदनहीनता को दर्शाता है।
श्री सिंह ने कहा कि नर्सों की भर्ती में जिस प्रकार धांधली और भ्रष्टाचार देखने को मिल रहा है उससे सरकार की पोल खुल गयी है। सबका साथ और सबका विकास कहने वाली एवं भ्रष्टाचार के खिलाफ खोखला नारा देने वाली भाजपा सरकार किस कदर भ्रष्टाचार में लिप्त है, यह नर्सों की भर्ती में हुए भ्रष्टाचार से स्पष्ट हो गया है। प्रदेश सरकार नर्सों की भर्ती प्रक्रिया से जुड़े मामले को सार्वजनिक करे और विभागीय मंत्री सहित सभी दोषियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करे।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment