नई दिल्लीः केंद्र की मोदी सरकार के तीन मंत्री शुक्रवार को कांग्रेस संसदीय दल की प्रमुख सोनिया गांधी से मिलने उनके निवास पहुंचे. सोनिया गांधी से मिलने वाले मंत्रियों में संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी, संसदीय कार्य राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल और कृषि व किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर शामिल थे.

ऐसा माना जा रहा है कि उन्होंने 17 जून से आरंभ हो रहे संसदीय सत्र पर चर्चा की. 17वीं लोकसभा का पहला सत्र 26 जुलाई को समाप्त होगा और बजट पांच जुलाई को पेश होगा. सूत्रों ने बताया कि जोशी का सोनिया गांधी के आवास पर जाना विपक्ष से तालमेल बैठाने की सरकार की कवायद का हिस्सा है. यह बैठक करीब 15 मिनट चली.

जोशी ने राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद और लोकसभा में द्रमुक के नेता टी आर बालू से भी मुलाकात की.सरकार बजट पेश करने के अलावा तीन तलाक पर प्रतिबंध समेत 10 नए अध्यादेशों को कानून में बदलने की योजना भी बना रही है. पहले दो दिन नए सांसद शपथ ग्रहण करेंगे. लोकसभा अध्यक्ष का चुनाव 19 जून को होगा. राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद दोनों सदनों के संयुक्त सत्र को 20 जून को संबोधित करेंगे.
संसद सत्र से पहले शिवसेना प्रमुख अपने सांसदों के साथ अयोध्या की यात्रा करेंगे
शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे पार्टी के सभी 18 लोकसभा सदस्यों के साथ संसद का आगामी सत्र शुरू होने से पहले अयोध्या की यात्रा करेंगे. पार्टी सूत्रों ने बुधवार को यह जानकारी दी. ठाकरे ने पिछले साल नवंबर में अयोध्या की यात्रा की थी और 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले विवादित स्थल पर राम मंदिर बनाने की मांग की थी. उस वक्त शिवसेना का अपने सहयोगी दल भाजपा के साथ तनावपूर्ण संबंध था. बाद में, शिवसेना ने लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा के साथ गठबंधन कर लिया लेकिन कहा कि उसके लिए राम मंदिर एक अहम मुद्दा है.

संपर्क किए जाने पर ठाकरे के करीबी सहयोगी एवं शिवसेना के मीडिया प्रभारी हर्षल प्रधान ने कहा, ‘‘यह सच है कि ठाकरे ने अयोध्या की यात्रा करने का फैसला किया है. 17 जून से शुरू हो रहे संसद के सत्र से पहले यात्रा की योजना है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘इस यात्रा के बारे में जल्द ही घोषणा की जाएगी. उद्धवजी इस यात्रा और पार्टी के रुख के बारे में विस्तार से बताएंगे. ’’ PLC.