Wednesday, February 19th, 2020

मैट्रिक-पूर्व छात्रवृत्‍ति के लिए 50 करोड़ रूपए का आबंटन : कांतिलाल भूरिया

आई .एन .वी .सी ,, दिल्ली,, राष्‍ट्रपति श्रीमती प्रतिभा देवी सिंह पाटिल ने जनजातीय मामले मंत्री श्री कांतिलाल भूरिया और संस्‍कृति मंत्री सुश्री सैलजा एवं जनजातीय मामले राज्‍य मंत्री श्री महादेव सिंह खंडेला की उपस्‍थिति में आज जनजातीय नृत्‍य के राष्‍ट्रीय उत्‍सव -प्रकृति का शुभारंभ किया। इस उत्सव का आयोजन जनजातीय मामलें मंत्रालय के द्वारा संस्‍कृति मंत्रालय के सहयोग से 16 से 18 मार्च, 2011-12 के बीच सिरी फोर्ट ऑडिटोरियम में किया जा रहा है। जनजातीय मामले मंत्री श्री कांतिलाल भूरिया ने अनुसूचित जनजाति और उनकी संस्‍कृति के विकास के लिए किए जा रहे प्रयासों का स्‍वागत किया। उन्‍होंने बताया कि अनुसूचित जनजाति के छात्रों की बीच शिक्षा को और मजबूती प्रदान करने के लिए एक मैट्रिक पूर्व छात्रवृत्‍ति योजना की शुरूआत की जा रही है। इस योजना के अंतर्गत वर्ष 2011-12 के लिए 50 करोड़ रूपए के बजट का आबंटन किया गया है। संस्‍कृति मंत्री सुश्री सैलजा ने विभिन्‍न लोक कलाओं के संरक्षण और विकास के लिए पूर्व प्रधानमंत्री स्‍व0 राजीव गांधी की पहल को आगे बढ़ाते हुए सात राज्यों के सांस्‍कृतिक केन्‍द्रों की निगरानी के लिए एक समिति का गठन किया गया है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment