Close X
Friday, July 30th, 2021

मूंग उत्पादन का वाजिब दाम किसानों के लिए संजीवनी

आई एन वी सी न्यूज़
नई दिल्ली,
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज नई दिल्ली में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी से उनके निवास पर मुलाकात की। लगभग एक घंटे चली मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री श्री मोदी को मध्यप्रदेश में कोरोना की वर्तमान स्थिति से अवगत कराया। साथ ही प्रदेश में कोरोना नियंत्रण को लेकर राज्य सरकार द्वारा अब तक किये गये प्रयासों के बारे में विस्तार से बताया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री को संभावित कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा की जा रही तैयारियों का ब्यौरा भी दिया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश में किये जा रहे कोरोना टीकाकरण की प्रगति के बारे में प्रधानमंत्री को विस्तार से जानकारी दी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि राज्य में अब कोरोना के पॉजिटिव मामले केवल 160 रह गये हैं और पॉजिटिविटी रेट 0.2 प्रतिशत रह गयी है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री का धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि कोविड टीकाकरण का काम केन्द्र सरकार ने अपने हाथों में लेकर एक बहुत ही महत्वपूर्ण निर्णय लिया है, जिसके दूरगामी परिणाम होंगे। इसके पहले हर राज्य सरकार वैक्सीन क्रय करने के लिए अलग-अलग तरीके अपना रही थी, जिससे उनको अनुकूल परिणाम नहीं प्राप्त हुए और वैक्सीन क्रय करने का काम ढीला पड़ गया। अब प्रधानमंत्री के नेतृत्व में केन्द्र सरकार सभी राज्यों के लिए बिना किसी भेदभाव के वैक्सीन बाजार से क्रय कर सभी राज्यों को वितरित करेगी और लोगों को वैक्सीनेट किया जायेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि आगामी 21 जून से वैक्सीनेशन के लिए पूरे प्रदेश में जन-जागरण अभियान चलाया जायेगा। इसमें राज्य मंत्री-मण्डल के सदस्य, विधायक एवं सांसद मिलकर जनता को टीकाकरण के लिए प्रेरित करेंगे। साथ ही यह भी बताया जायेगा कि वैक्सीनेशन ही कोविड से बचने का एकमात्र सुरक्षा कवच है। इस अभियान के अंतर्गत 18 से 44 आयु वर्ग का टीकाकरण केन्द्र सरकार ने अपने हाथों में लिया है, जिसके लिए मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार की प्रतिदिन 5 लाख लोगों का टीकाकरण करने की क्षमता है और दिसम्बर माह के अन्त तक पूरे प्रदेश की लगभग 70 प्रतिशत आबादी का वैक्सीनेशन कर लिया जायेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री से किसानों के मुद्दे पर भी विस्तार से चर्चा की। मुख्यतः डी.ए.पी. और मूंग की खरीदी पर किसानों को उचित दाम मिलने की बात की। उन्होंने कहा कि मूंग उत्पादन का वाजिब दाम किसानों के लिए संजीवनी साबित होगा।  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने राज्यों की गिरती आर्थिक स्थिति पर चिन्ता व्यक्त करते हुए कहा कि कोरोना कर्फ्यू के कारण राज्य की आय में काफी गिरावट आई है। उन्होंने प्रधानमंत्री को बताया कि पिछले साल जी.डी.पी. का साढ़े 5 प्रतिशत राज्यों को बाजार से ऋण लेने की छूट थी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आग्रह किया कि इसी छूट को चालू वर्ष में रखा जाये। ज्ञात हो कि केन्द्र सरकार ने छूट को साढ़े 5 से घटाकर साढ़े 4 प्रतिशत कर दिया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि प्रधानमंत्री से चर्चा के बाद सभी को दीवाली (नवम्बर) तक निःशुल्क राशन प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में दिया जायेगा।

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने मुख्यमंत्री श्री  शिवराज सिंह चौहान द्वारा उठाये गये विषयों को ध्यानपूर्वक सुना और राज्य सरकार द्वारा कोविड से निपटने और मुख्यमंत्री द्वारा उठाये गये अन्य मुद्दों पर केन्द्र सरकार से हरसंभव सहायता देने का आश्वासन दिया।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment