नई दिल्ली: पूर्व विधायक कृष्णानन्द राय हत्या मामले में सीबीआई कोर्ट का फैसला आ गया है. कोर्ट ने इस हत्याकांड में आरोपी बनाए गए सभी लोगों को बरी कर दिया है. कोर्ट ने मुख्तार अंसारी समेत सभी आरोपियों को बरी किया है. मुख्तार अंसारी के अलावा बाकी आरोपियों में उनके भाई अफ़ज़ाल अंसारी, संजीव माहेश्वरी, एजाजुल हक़, राकेश पांडेय, रामु मल्लाह, मंसूर अंसारी और मुन्ना बजरंगी शामिल थे. इसमें से मुन्ना बजरंगी की पिछले साल बागपत जेल में फायरिंग कर हत्या हो चुकी है. आज बाकी आरोपियों को कोर्ट ने बरी कर दिया.

आरोप था कि मुख्तार अंसारी के कहने पर मुन्ना बजरंगी ने साथियों के साथ मिलकर लखनऊ हाइवे पर कृष्णानंद राय की गाड़ियों पर AK47 से 400 गोलियां बरसाई थीं. इस हमले में गाजीपुर से विधायक कृष्णानंद राय के अलावा उनके साथ चल रहे 6 अन्य लोग भी मारे गए थे. इनके शव से 67 गोलियां बरामद की गई थी. PLC.

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here