Monday, July 6th, 2020

मार्च 2016 तक धौलपुर शहर को ओडीएफ करने का लक्ष्य : मंजीत सिंह

rajasthan government logoआई एन वी सी न्यूज़

जयपुर, स्वायत शासन विभाग के प्रमुख शासन सचिव मंजीत सिंह ने कहा है कि मार्च 2016 तक धौलपुर शहर को ओडीएफ (ओपन डेफेकेशन फ्री/खुले में शौच से मुक्त) करने का लक्ष्य है। सोमवार को कलेक्ट्रेट में राजस्थान अरबन इन्फ्रास्ट्रक्चर डवलपमेन्ट प्रोजेक्ट (आरयूआईडीपी) के परियोजना निदेशक श्री नवीन महाजन और जिला कलेक्टर शुचि त्यागी के साथ बैठक में प्रमुख शासन सचिव ने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन राज्य सरकार की प्राथमिकता का सबसे महत्वपूर्ण बिन्दु है। मार्च 2016 तक सभी घरों में स्वच्छ शौचालय होना सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने बताया कि मार्च 2016 तक सीवरेज लाइन से शहर के प्रत्येक घर का कनेक्शन हो जाएगा। कनेक्शन करवाना अनिवार्य है। जिस घर का कनेक्शन नहीं होगा, उसकी बिजली,पानी की सप्लाई काट दी जाएगी। नियमों में ढ़ील देते हुए कनेक्शन के लिए बिजली या पेयजल के बिल की प्रति ही अनिवार्य की गई है, भवन के स्वामित्व के कागजात नहीं मांगे जाऐंगे। उन्होंने कहा कि इस लक्ष्य को प्राप्त करने में नगर परिषद के पार्षदों और आम जन का सहयोग बहुत महत्वपूर्ण है। आम जन विशेषकर महिलाओं और स्कूली विद्यार्थियों को स्वच्छता, स्वच्छ शौचालय के महत्व के प्रति जागरूक किया जाऐगा। तीनों शहरी निकायों धौलपुर, बाडी और राजाखेडा में ठोस व तरल कचरा प्रबन्धन के लिए विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डी.पी.आर.) तैयार की जा रही है। यहांॅ सार्वजनिक  व सामुदायिक शौचालय बनाने के लिए जगह चिन्हित करने के निर्देश दिए गये हैं। शौचालय विहीन परिवारों का सर्वे किया जा रहा है। धौलपुर शहर में अब तक हुए सर्वे में 1150 परिवार शौचालय विहीन मिले हैं। इन्हे प्रथम किश्त में 4000 रुपये तथा शौचालय निर्मित होने के बाद दूसरी किश्त में फिर 4000 रुपये दिए जाने हैं। उन्होंने पार्षदों को शौचालय विहीन परिवारों की सूची सौंपने के निर्देश दिए जिससे वे ऐसे परिवारों को शौचालय जल्द बनाने के लिए प्रेरित कर सके। प्रमुख शासन सचिव ने प्रत्येक वार्ड में ‘स्वच्छता दूत’ की नियुक्ति के निर्देश दिए जो जागरूकता फैलाने, फॉर्म भरवाने तथा स्वच्छता सम्बन्धी अभियान के अन्य कार्यो में सहायता देंगे। आर.यू.आई.डी.पी. के परियोजना निदेशक ने निर्देश दिए कि पीएचईडी धौलपुर शहर के प्रत्येक घर में मीटर सहित पेयजल कनेक्शन सुनिश्चित करें। उन्होंने वेस्ट वाटर ट्रीटमेन्ट प्लान्ट 25 जुलाई, आनन्द विहार, कैला कॉलोनी पेयजल टंकी 31 जुलाई, महाराना पेयजल टंकी 5 अगस्त एवं बजरंग कॉलोनी पेयजल टंकी 10 अगस्त तक कार्यशील करने के निर्देश दिए। उन्होंने ठोस कचरा शोधन संयंत्र, तगावली को भी जल्द कार्यशील करने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि जिला कलेक्टर शुचि त्यागी की सतत् मॉनिटरिंग के कारण ओंडेला रोड के निर्माण में तेजी आई है। तकनीकी दृष्टि से कुछ जटिलता है। यहांॅ कार्य 25 जुलाई तक लाइन डालने तथा 15 अगस्त तक ग्रेवल बिछाने का कार्य पूरा हो जाएगा। उन्होंने निर्माण कार्य में तेजी लाने के लिए रात की पारी में भी कार्य करने के निर्देश दिए।दिन में यह कार्य पूर्ण होने की संभावना है। हाइवे क्रॉसिंग पर सीवरेज लाइन 31 अगस्त तक बिछा दी जाएगी। सितम्बर से सीवरेज कनेक्शन करना शुरू कर देंगे। दीपावली तक 7000 घरों में कनेक्शन का लक्ष्य है। ट्रीटमेन्ट प्लान्ट, पेयजल टंकियां, 2040 ई में धौलपुर शहर शहर की सम्भवित जरूरतो के मुताबिक बनाएं गये हैं। जिला कलेक्टर शुचि त्यागी ने तीनों शहरी निकाय क्षेत्रों में स्वच्छ शौचालय निर्माण में तेजी लाने, जागरूकता के लिए महिला स्वयं सहायता समूहों, एन.जी.ओ. की सेवाएं लेने की बात कही। धौलपुर नगर परिषद सभापति रीतेश शर्मा ने इस अभियान मेंं पूरा सहयोग करने का आश्वासन दिया।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment