Sunday, July 5th, 2020

माया की माया पर हाथ सवार , कांग्रेस-बसपा के बीच मिलीभगत का खेल उजागर

सुरेंदर अग्निहोत्री ,, लखनऊ,, केन्द्रीय योजना आयोग और मुख्यमन्त्री सुश्री मायावती के बीच पत्राचार तथा कांग्रेस के सवोच्या  श्रीमती सोनिया गांधी और श्री राहुल गांधी के बयानों से कांग्रेस-बसपा के बीच मिलीभगत का खेल फिर उजागर हुआ है। मुख्यमन्त्री ने हमेशा की तरह केन्द्र से मदद में उपेक्षा का रोना रोया है। श्रीमती सोनिया-राहुल का कहना है कि बसपा सरकार ने उ0प्र0 को बबाZद कर दिया है। इससे मुख्यमन्त्री की प्रशासनिक अक्षमता एवं प्रदेश के वित्तीय कुप्रबंधन का नक्शा तो पेश होता ही हैं ऐसे में यह सवाल भी उठना लाजिमी है कि केन्द्र की कांग्रेस सरकार तीन सालों से प्रदेश की हो रही बबाZदी से आंखे क्यों बन्द किए हैर्षोर्षो उसने अब तक राज्य सरकार के विरूद्ध कार्यवाही का मन क्यों नही बनाया हैर्षोर्षो आखिर प्रदेश की जनता ने क्या कसूर किया है कि उसे विकास से वंचित रखा जा रहा हैर्षोर्षो कांग्रेस इसमें अपनी जिम्मेदारी में कैसे बच सकती है। केन्द्रीय योजना आयोग के अनुसार खाद्य, सुरक्षा, कृिश, ऊर्जा, स्वास्थ्य,  शिक्षा इन सभी क्षेत्रों में उत्तर प्रदेश की स्थिति  निराशापूर्ण है। देश के प्रान्तोें में उत्तर प्रदेश को 27वां स्थान आर्थिक विकास सूचकांक के आधार पर मिला हैं। मुख्यमन्त्री ने इन मुद्दो पर सफाई देने के बजाय केन्द्र पर उपेक्षा का घिसापिटा आरोप मढ़ा है और अपनी पुरानी चिटि्टयों की पोथी खोल ली है। मुख्यमन्त्री को अपनी कमियां छुपाने और दूसरों को दोशी ठहराने की आदत हैं। उन्होने अपने तीन वशZ की उपलब्धियों के नाम पर पूर्ववर्ती समाजवादी सरकार के कार्यो को अपने खाते में जोड़ने की कलाकारी दिखायी है। श्री मुलायम सिंह यादव ने अपने मुख्यमन्त्रित्वकाल में स्वयं संसाधन जुटाकर बुन्देलखण्ड-पूर्वांचल के विकास के लिए योजनाएं ‘ाुरू की थी। बाढ़-सूखा संकट भी था पर उसे श्री यादव ने अपने कुशल प्रबंधन से निबटाया था। श्री यादव ने 24000 करोड़ रूपए 2007 में राजकोश में छोड़े थे। बसपा सरकार ने हर साल घाटा बढ़ा दिया है। जब से सुश्री मायावती ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमन्त्री की कुर्सी सम्हाली है, प्रदेश के विकास पर ध्यान देने के बजाए सिर्फ अपनी संपत्तियों के विकास पर ध्यान केंिन्द्रत किया है। उत्तर प्रदेश में पूंजीनिवेश ‘ाून्य हुआ है। बुनियादी ढांचे के विकास की जगह अनुत्पादक मदों में बजट का दुरूपयोग किया गया है। कांग्रेस के ‘ाीशZ नेता  प्रदेश की बबाZदी पर घड़ियाली आंसू बहाते रहते हैं। केन्द्र सरकार की जन विरोधी नीतियों के कारण भुखमरी से लेकर बेकारी और नक्सलवाद ने राश्ट्र की प्रमुसत्ता के सम्मुख गम्भीर समस्याएं पैदा कर दी है। कांग्रेसी नेताओं को इसका जबाब भी देना चाहिए कि अमेठी और रायबरेली में बेकारी, गरीबी और भुखमरी की स्थिति में सुधार क्यों नही हुआ हैर्षोर्षो मायावती उन्हें पूर्ण समर्थन दे रही है। बसपा और कांग्रेस के इस खतरनाक खेल में गरीब जनता कराह रही है। दोनों सरकारे पीड़ित जनता को भ्रमित करने की साजिश कर रही है। समाजवादी पार्टी इस स्थिति को लोकतन्त्र के लिए खतरनाक मानती है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment

Trendy Handbags, says on November 1, 2014, 9:33 PM

I was recommended this web site by my cousin. I am not sure whether this post is written by him as nobody else know such detailed about my trouble. You're amazing! Thanks!

snowmobile, says on February 24, 2011, 9:05 AM

He ist dieses ein großer Pfosten. Kann ich einen Teil auf ihm auf meinem Aufstellungsort benutzen? Ich würde selbstverständlich mit Ihrem Aufstellungsort verbinden, also konnten Leute den vollen Artikel lesen, wenn sie zu wünschten. Dankt jeder Weise.

Otha Nevens, says on November 14, 2010, 12:33 AM

I had been thinking this article was going to end up being mundane as a result of theme! Though the more read the a lot better this became.

Herb Wojtas, says on October 27, 2010, 7:29 AM

My brother and I were just discussing this particular very topic, he's normally attempting to prove me wrong. Your current view on this is fantastic and exactly how I feel. I just sent my brother this site to demonstrate him your current perspective. After overlooking your blog I saved and will be coming back to read your posts!

Gladis Faulisi, says on October 26, 2010, 5:41 AM

I have been just going through your site it is very well crafted, I'm looking around through the internet trying to find out precisely how to begin this blog site thing and your site happens to be really high quality.

Carlo Kotrba, says on October 25, 2010, 11:38 AM

My brother and I were just debating this very topic, he is usually trying to prove me wrong. Your view on this is perfect and exactly how I feel. I just e mailed my brother this page to show him your current perspective. After looking over your blog I added and will be coming back to read your updates!

chase online banking, says on October 18, 2010, 10:52 AM

Strange this post is totaly unrelated to what I was searching google for, but it was listed on the first page. I guess your doing something right if Google likes you enough to put you on the first page of a non related search. :)

lenen zonder bkr toetsing, says on August 16, 2010, 2:27 AM

Over de voor- en nadelen van het afsluiten van een lening zonder BKR-toetsing.

hypotheek, says on August 13, 2010, 1:39 AM

Hypotheken? Heel veel hypotheek informatie: verschillende hypotheekvormen, hypotheekrentes, nationale hypotheek garantie, hoe een hypotheek te vergelijken.

Claribel Caravetta, says on June 18, 2010, 9:24 PM

Hi, I can’t understand how to add your site in my rss reader. Can you Help me, please :)

Vinita Cerecer, says on June 6, 2010, 6:06 AM

Thanks a lot document. discover advice reading through I have a presentation, and precisely what I needed.

freeua-524, says on May 21, 2010, 6:50 AM

freeua-524... сайт посвящен электронике и телевизорам туточки http://alltvset.ru/, заходите, узнаете много хорошего...

Remortgage, says on May 20, 2010, 8:09 PM

Cool website www.internationalnewsandviews.com!... I look forward to all your updates and visit your site regularly....