Close X
Friday, October 30th, 2020

मायावती सरकार का 3000 रू.करोड का एक और नया घोटाला

आई.एन.वी.सी,, लखनऊ,, मायावती सरकार का 3000 रू.करोड का एक और नया घोटाला उत्तेर  प्रदेश पॉवर कॉपोरेशन ने प्राइवेट कुछ निजी कंपनियों के साथ एक साल के लिए महंगी बिजली लेने का करार ;।हतममउमदज द्धकिया है। पॉवर एक्सचेंजध्बिजली के खुले बाजार में दो महिनों मे बिजली का दर 3 रू .प्रति युनिट है। उत्तर प्रदेश सरकार ने 4 रू0 प्रति युनिट से निजी कंपनियों से खरीदना प्रारंभ किया है। भाजपा के राष्ट्रीय सचिव तथा भष्ट्राचार विरोधी अभियान के राष्ट्रीय संयोजक डॉ. किरिट सोमैया ने आज उत्तर प्रदेश माया सरकार के 3000 करोड के इस बिजली खरीदे घोटाले का पर्दाफाश किया।  डॉ. किरिट सोमैया आज गोरखपुरर, देवरिया, बलिया, मऊ जिलों के ’’भष्ट्राचार उजागर करो’’ दौरे पर है। उत्तर प्रदेश सरकार की कंपनी उत्तर प्रदेश पावर कॉपोरेशन की रोजाना ५ करोड युनिट के हिसाब से 2011-12 वर्ष के लिए खरीदने कॉन्ट्रक्ट अदानी पॉवर, ग्लोबल एनर्जी आदि कंपनीयों से किया है। 1 साल के लिए प्रति युनिट 1.70रु. इन निजी कंपनियों कों सरकार अधिक देगी। सालभर में 1825 रू करोड बिजली इन निजी कंपनियों से मायावती सरकार खरीदेगी। बाजार मूल्य से 3000 करोड रूपये इन कंपनियों को ज्यादा मिलेगें। इस समय दोनो पॉवर एक्सेंजध्बिजली एक्सेंज में प्म्ग् व च्ज्ञग्स् ने 3 रू.प्रति यूनिट से बिजली उपलब्ध है। गत दो महिनो में इन पॉवर कंपनियों मे 3रू. प्रति युनिट के सौदे हुए है। उत्तर प्रदेश पॉवर कॉपोरेशन के इस सौदे के पिछे उत्तर प्रदेश की जनता को बिजली उपलब्ध कराने के नही किंतु आगामी श्चुनाव की निधी श् इकट्रटा करने का यह सौदा हुआ है। ऐसा आरोप भाजपा नेता डॉ. किरीट सोमैया नंे बसपा सरकार पर लगाया है। भाजपा यह विषय उत्तर प्रदेश बिजली आयोग ; ब्मदजतंस म्समबजतपबपजल त्महनसंतपजल ब्वउउपेेपवदद्ध तथा कैग/आडीटर  के सामने उपस्थित करेगी, तथा इस घोटाले की ब्ठप्  जांच  करने की मॉंग भी भाजपा ने की है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment